Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती मनाने की तैयारियां शुरू, PM मोदी की अध्यक्षता में बनी समिति

नई दिल्ली। देश इस साल नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वीं जयंती समारोह मनाने जा रहा है। इसको लेकर सरकार ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसको लेकर सरकार की ओर से एक उच्च स्तरीय समिति बनाई गई है, जिसकी अध्यक्षता पीएम नरेंद्र मोदी करेंगे। संस्कृति मंत्रालय ने आज इसको लेकर जानकारी दी। संस्कृति मंत्रालय के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती के उपलक्ष्य में किया गया है। उच्च स्तरीय समिति 23 जनवरी, 2021 से शुरू होने वाली एक साल के स्मृति समारोह की गतिविधियों को लेकर फैसला करेगी।

कोलकाता में रहेंगे पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जयंती समारोह के मौके पर बंगाल में रहेंगे। पीएम नरेंद्र मोदी नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जयंती समारोहों की शुरुआत 23 जनवरी को कोलकाता के ऐतिहासिक ‘विक्टोरिया मेमोरियल हॉल’ से करेंगे। कोरोना महामारी के बीच पीएम मोदी का यह पहला कोलकाता दौरा होगा।

पीएम मोदी ने बीते दिनों नेताजी की भतीजी चित्रा घोष के निधन पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की थी और उनके योगदान को याद किया था. बता दें पीएम नरेंद्र मोदी ने खुद ट्वीट कर कहा था कि नेताजी सुभाष बोस की बहादुरी जगजाहिर है। हम इस प्रतिभाशाली विद्वान, सैनिक और महान जन नेता की 125 वीं जयंती जल्द ही मनाने जा रहे हैं।

1943 में पोर्ट ब्लेयर में तिरंगा फहराने की घटना

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 1943 में पोर्ट ब्लेयर में तिरंगा फहराने की घटना का किया था। उन्होंने कहा कि भारतवासियों के लिए यह विशेष दिन है जो हर भारतीय की याद में रहता है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा- 30 दिसंबर 1943 हर भारतीय की याद में एक ऐसा दिन, जब वीर नेताजी सुभाष बोस ने पोर्ट ब्लेयर में तिरंगे को फहराया था। इस विशेष दिन की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर मैं पोर्ट ब्लेयर गया था और तिरंगे को फहराने का सम्मान प्राप्त किया था।