Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

भगवान कामतानाथ की शरण में पहुंचे अखिलेश, चित्रकूट में पूजन कर लगाई कामदगिरि की परिक्रमा

चित्रकूट। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव चित्रकूट दौरे के दूसरे दिन भगवान कामतानाथ की शरण में पहुंचे। यहां पर उन्होंने पूजन अर्चन किया और कामदगिरि की परिक्रमा पूरी की। परिक्रमा के दौरान पथ पर दुकानदारों ने उनसे मुलाकात की तो उन्होंने भरोसा दिया की दुकानों को उजड़ने नहीं दिया जाएगा।

गुरुवार को चित्रकूट प्रवास पर आए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का काफिला शुक्रवार की सुबह कोहरे के बीच कर्वी स्थित लोक निर्माण विभाग के डाक बंगाला से निकला और सीधे भगवान कामतानाथ के दरबार में पहुंचा। कामदगिरि प्रमुख के अधिकारी संत मदन गोपाल दास ने पूर्व मुख्यमंत्री को विधिवत भगवान कामतनाथ की पूजा अर्चना कराई। इसके बाद उन्होंने कामदगिरी की परिक्रमा शुरू की, उनके साथ समर्थकों की भीड़ भी चल पड़ी।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कामतनाथ और जय सियाराम के जयकारों के पंचकोशी परिक्रमा पूरी। खोही की जलेबी वाली गली में करीब दस मिनट तक वह रुके। इस दौरान दुकानदारों के साथ बैठकर चाय पी और उनकी समस्या को सुना। दुकानदारों ने अतिक्रमण अभियान के तहत दुकानें उजाड़े जाने की समस्या बताई। इसपर पूर्व मुख्यमंत्री ने दुकानदारों को भरोसा दिया कि किसी भी कीमत पर उनकी दुकानें नहीं उजड़ने दी जाएंगी। परिक्रमा के दौरान उन्होंने कामतानाथ प्राचीन द्वार, तृतीय मुखारबिंद, बरहा हनुमान मंदिर, भरत मिलाप समेत कई प्रमुख मंदिरों में दर्शन किए।