Logo
ब्रेकिंग
मॉबली*चिंग के खिलाफ भाकपा-माले ने निकाला विरोध मार्च,किया प्रदर्शन छावनी को किसान सब्जी विक्रेताओं को अस्थाई शिफ्ट करवाना पड़ा भारी,हूआ विरोध व गाली- गलौज सूक्ष्म से मध्यम उद्योगों का विकास हीं देश के विकास का उन्नत मार्ग है बाल गोपाल के नए प्रतिष्ठान का रामगढ़ सुभाषचौक गुरुद्वारा के सामने हुआ शुभारंभ I पोड़ा गेट पर गो*लीबारी में दो गिर*फ्तार, पि*स्टल बरामद Ajsu ने सब्जी विक्रेताओं से ठेकेदार द्वारा मासूल वसूले जाने का किया विरोध l सेनेटरी एवं मोटर आइटम्स के शोरूम दीपक एजेंसी का हूआ शुभारंभ घर का खिड़की तोड़ लाखों रुपए के जेवरात कि चोरी l Ajsu ने किया चोरों के गिरफ्तारी की मांग I 21 जुलाई को रामगढ़ में होगा वैश्य समाज के नवनिर्वाचित सांसद और जनप्रतिनिधियों का अभिनंदन l उपायुक्त ने कि नगर एवं छावनी परिषद द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा।

भगवान कामतानाथ की शरण में पहुंचे अखिलेश, चित्रकूट में पूजन कर लगाई कामदगिरि की परिक्रमा

चित्रकूट। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव चित्रकूट दौरे के दूसरे दिन भगवान कामतानाथ की शरण में पहुंचे। यहां पर उन्होंने पूजन अर्चन किया और कामदगिरि की परिक्रमा पूरी की। परिक्रमा के दौरान पथ पर दुकानदारों ने उनसे मुलाकात की तो उन्होंने भरोसा दिया की दुकानों को उजड़ने नहीं दिया जाएगा।

गुरुवार को चित्रकूट प्रवास पर आए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का काफिला शुक्रवार की सुबह कोहरे के बीच कर्वी स्थित लोक निर्माण विभाग के डाक बंगाला से निकला और सीधे भगवान कामतानाथ के दरबार में पहुंचा। कामदगिरि प्रमुख के अधिकारी संत मदन गोपाल दास ने पूर्व मुख्यमंत्री को विधिवत भगवान कामतनाथ की पूजा अर्चना कराई। इसके बाद उन्होंने कामदगिरी की परिक्रमा शुरू की, उनके साथ समर्थकों की भीड़ भी चल पड़ी।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कामतनाथ और जय सियाराम के जयकारों के पंचकोशी परिक्रमा पूरी। खोही की जलेबी वाली गली में करीब दस मिनट तक वह रुके। इस दौरान दुकानदारों के साथ बैठकर चाय पी और उनकी समस्या को सुना। दुकानदारों ने अतिक्रमण अभियान के तहत दुकानें उजाड़े जाने की समस्या बताई। इसपर पूर्व मुख्यमंत्री ने दुकानदारों को भरोसा दिया कि किसी भी कीमत पर उनकी दुकानें नहीं उजड़ने दी जाएंगी। परिक्रमा के दौरान उन्होंने कामतानाथ प्राचीन द्वार, तृतीय मुखारबिंद, बरहा हनुमान मंदिर, भरत मिलाप समेत कई प्रमुख मंदिरों में दर्शन किए।