Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

केरल विधानसभा में विपक्ष का हंगामा, मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के इस्तीफे की उठी मांग

तिरुवंतपुरम। केरल विधानसभा में विपक्ष द्वारा जमकर हंगामा किया गया। राज्यपाल के संबोधन का बहिष्कार करते हुए कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF) ने केरल विधानसभा के सामने विरोध जताते हुए मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के नेतृत्व वाली वाम सरकार को पद छोड़ने के लिए कहा। इस दौरान राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने अपने संबोधन में कहा कि वह अपना संवैधानिक कर्तव्य निभा रहा रहे हैं और उम्मीद है कि कोई बाधा नहीं बनेगा। इस दौरान कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष ने राज्यपाल के संबोधन के दौरान ही विधानसभा से वॉकआउट किया। बता दें कि इससे पहले भी राज्य विधानसभा में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया था।

इससे पहले हाई प्रोफाइल सोना तस्करी मामले में विधानसभा स्पीकर पी. श्रीरामकृष्णन के सहायक निजी सचिव के. अय्यप्पन से कस्टम विभाग की पूछताछ को लेकर टकराव की स्थिति पैदा हुई थी। पी. श्रीरामकृष्णन ने बीते दिन कहा था कि तस्करी के मामले में उनके सहायक निजी सचिव से सीमा शुल्क विभाग द्वारा पूछताछ करने के लिए उनकी पूर्व अनुमति जरुरी है। इसके साथ ही कहा था कि वह किसी भी जांच में बाधा उत्पन्न नहीं करेंगे। श्रीरामकृष्णन ने विधानसभा कार्य विधि के नियमों का हवाला देते हुए कहा था कि विधानसभा परिसर में किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए स्पीकर की अनुमति जरुरी है।