Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

केरल विधानसभा में विपक्ष का हंगामा, मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के इस्तीफे की उठी मांग

तिरुवंतपुरम। केरल विधानसभा में विपक्ष द्वारा जमकर हंगामा किया गया। राज्यपाल के संबोधन का बहिष्कार करते हुए कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF) ने केरल विधानसभा के सामने विरोध जताते हुए मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के नेतृत्व वाली वाम सरकार को पद छोड़ने के लिए कहा। इस दौरान राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने अपने संबोधन में कहा कि वह अपना संवैधानिक कर्तव्य निभा रहा रहे हैं और उम्मीद है कि कोई बाधा नहीं बनेगा। इस दौरान कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष ने राज्यपाल के संबोधन के दौरान ही विधानसभा से वॉकआउट किया। बता दें कि इससे पहले भी राज्य विधानसभा में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया था।

इससे पहले हाई प्रोफाइल सोना तस्करी मामले में विधानसभा स्पीकर पी. श्रीरामकृष्णन के सहायक निजी सचिव के. अय्यप्पन से कस्टम विभाग की पूछताछ को लेकर टकराव की स्थिति पैदा हुई थी। पी. श्रीरामकृष्णन ने बीते दिन कहा था कि तस्करी के मामले में उनके सहायक निजी सचिव से सीमा शुल्क विभाग द्वारा पूछताछ करने के लिए उनकी पूर्व अनुमति जरुरी है। इसके साथ ही कहा था कि वह किसी भी जांच में बाधा उत्पन्न नहीं करेंगे। श्रीरामकृष्णन ने विधानसभा कार्य विधि के नियमों का हवाला देते हुए कहा था कि विधानसभा परिसर में किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए स्पीकर की अनुमति जरुरी है।