Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

अमेरिका में हिंसा की PM मोदी ने की निंदा, बोले- शांतिपूर्ण तरीके से होना चाहिए सत्ता का हस्तांतरण

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका में हुए हिंसक प्रदर्शन की कड़ी निंदा की है। पीएम मोदी ने गुरुवार को अमेरिका में वाशिंगटन में हुई हिंसा पर चिंता व्यक्त की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में सत्ता का हस्तांतरण शांतिपूर्ण तरीके से होना जरूरी है। पीएम मोदी ने ने गुरुवार को वाशिंगटन डीसी में निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के नाराज समर्थकों द्वारा दंगा और हिंसा पर अपनी पीड़ा व्यक्त की। उन्होंने कहा कि गैरकानूनी विरोध प्रदर्शन के माध्यम से लोकतांत्रिक प्रक्रिया को प्रभावित नहीं होने दिया जा सकता है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि सत्ता का हस्तांतरण शांतिपूर्ण तरीके से जारी रहना चाहिए।

गौरतलब है कि वाशिंगटन में हजारों की संख्या में निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप(Donald Trump) समर्थकों ने कैपिटल हिल पर कब्जा करने की कोशिश की। इसके साथ ही सीनेट में भी बवाल काटा।

इस पर अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखा- ‘वाशिंगटन डीसी में हिंसा और उपद्रव की खबरों से उन्हें दुख पहुंचा है। सत्ता का ट्रांसफर सही और शांतिपूर्ण ढंग से होना जरूरी है। इस तरह के प्रदर्शनों के जरिए लोकतांत्रिक प्रक्रिया को नुकसान नहीं पहुंचाया जा सकता है।’

गौरतलब है कि अमेरिका के वाशिंगटन में हुई इस हिंसा में एक महिला की मौत हो गई है, जबकि पुलिस के साथ झड़प में कई प्रदर्शनकारी घायल भी हो गए हैं। अमेरिका में हजारों की संख्या में ट्रंप समर्थकों ने सीनेट का घेराव करने की कोशिश की, नारेबाजी करते हुए सीनेट में घुसकर कई क्षेत्रों में कब्जा भी किया।

पीएम मोदी के अलावा कई और नेताओं ने भी इस घटना पर चिंता व्यक्त की है। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ट्वीट कर कहा है कि अमेरिका से जैसी खबरें आ रही हैं, वो चिंता बढ़ाने वाली हैं सभी को शांति से काम लेना चाहिए। उनके अलावा कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो, ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन, न्यूजीलैंड की पीएम जेसिंडा ने भी ट्विटर के जरिए अमेरिकी हिंसा की निंदा की है।