Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

इंफाल में जनसभा में बोले गृह मंत्री अमित शाह- हमने बीते 3 सालों में बदली मणिपुर की सूरत

इंफाल। गृहमंत्री अमित शाह उत्तर-पूर्व के दौरे पर हैं। अपने दौरे के दूसरे दिन आज अमित शाह मणिपुर पहुंचे हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज मणिपुर दौरे के तहत इंफाल पहुंचे। इंफाल में फिलहाल वह एक जनसभा को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान अमित शाह ने कहा कि मणिपुर में विकास की शुरुआत हो गई है। अमित शाह ने कहा कि हमने बीते 3 सालों में मणिपुर का चेहरा बदल दिया है।

मणिपुर में विकास की बयार ने बदली तस्वीर

गृह मंत्री अमित शाह ने इंफाल में जनसभा में कहा कि पहले मणिपुर की कानून-व्यवस्था की चर्चा होती थी, लेकिन यहां भाजपा की सरकार बनने के बाद मणिपुर कभी बंद नहीं हुआ है। शाह ने कहा कि अब मणिपुर विकास के पथ पर है। पिछले तीन साल में हमने मणिपुर का चेहरा बदल दिया है।

अमित शाह ने कहा कि इससे पहले पूर्वोत्तर अलगाववाद और हिंसा के लिए जाना जाता था। लेकिन पिछले 6 वर्षों में, लगभग सभी सशस्त्र समूहों ने एक के बाद एक हथियार डाले। हिंसा थम गई है। मुझे उम्मीद है कि शेष सशस्त्र समूह हिंसा से दूर रहेंगे और मुख्यधारा में शामिल होंगे।

अमित शाह ने कहा कि पहले यहां लोगों को रोजी-रोटी की दिक्कत होती थी। यहां बंद हुआ करता था। जिससे लोगों को परेशानी होती थी। अमित शाह ने कहा कि लोगों के घरों में गैस नहीं होती थी, बच्चों के लिए रोटी नहीं थी। साल 2014 में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि दोनों हाथ मजबूत होने चाहिए और नॉर्थ ईस्ट दूसरा हाथ है।

क्षेत्र में आतंकवाद में आई कमी

गृह मंत्री ने कहा कि इस एरिया में पहले बाढ़ आती थी लेकिन अब यहां विकास की बाढ़ है। उन्होंने कहा कि यहां आतंकवाद में कमी आई है और यहां आतंकी मुख्यधारा में आने का इंतजार कर रहे है। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने पूर्वोत्तर में शांति और विकास सुनिश्चित करने के लिए कई उपाय किए…आठ चरमपंथी समूहों के 644 कैडरों ने 2,500 से अधिक हथियारों के साथ आत्मसमर्पण किया और मुख्यधारा में शामिल हुए।

मुख्यमंत्री ने किया था स्वागत

यहां पहुंचने पर मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने उनका स्वागत किया। यहां वह कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही गृह मंत्री यहां कई नई परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे। आज अपने दौरे में अमित शाह कई अन्य कार्यक्रमों में भी शामिल होंगे।

कामाख्या मंदिर में किए दर्शन

मणिपुर रवाना होने से पहले अमित शाह असम में गुवाहाटी के कामाख्या मंदिर गए। मणिपुर दौरे से पहले अमित शाह गुवाहाटी के कामाख्या मंदिर में दर्शन करने पहुंचे। यहां गृह मंत्री अमित शाह के साथ मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा भी दर्शन करने पहुंचे।

मणिपुर में मुख्यमंत्री ने ली तैयारियों की समीक्षा

इससे पहले मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दौरे से पहले पूर्वी इंफाल जिले के हाप्टा कांगजेइबुंग में एक सार्वजनिक सभा स्थल की तैयारियों की समीक्षा की। समाचार एजेंसी एएनआइ से बात करते हुए मुख्यमंत्री बीरेन ने कहा कि वह मणिपुर के सच्चे दोस्त हैं। वह यहां कई परियोजनाओं के उद्घाटन और कई नई परियोजनाओं की शुरुआत के लिए राज्य का दौरा कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि शाह राज्य में नागरिक समाज संगठन के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे।

राज्य में आज कई परियोजनाओं का उद्घाटन और आधारशिला

बीरेन सिंह ने कहा कि राज्य सरकार पूरी हो चुकी परियोजनाओं का उद्घाटन करने की योजना बना रही है जैसे कि थौबल बहुउद्देशीय परियोजना और साथ ही शाह की यात्रा के दौरान नई परियोजनाओं की नींव भी रखी जाएगी। इसके अलावा आज इम्फाल में एक कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री चुराचंदपुर मेडिकल कॉलेज, इम्फाल में राज्य सरकार के गेस्ट हाउस, नई दिल्ली के द्वारका में मणिपुर भवन, राज्य के मूंगखोंग में आईआईटी,  इंफाल में राज्य पुलिस का मुख्यालय और इंफाल में एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र शहर की आधारशिला रखेंगे

शाह पूर्वोत्तर की तीन दिवसीय यात्रा पर पर शनिवार सुबह असम के दौरे पर गुवाहाटी पहुंचे। यहां उन्होंने कई विकास योजनाओं की आधारशिला रखी। इस दौरान उन्होंने असम में विकास को लेकर कई बातें कीं। गुवाहाटी की सभा में अमित शाह ने एक बार आंदोलन कर रहे किसानों से कृषि कानूनों को लेकर अपनी चिंताओं को दूर करने के लिए सरकार से बातचीत की अपील की।