Logo
ब्रेकिंग
रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l असामाजिक तत्वों ने देवी देवताओं की मूर्ति को किया क्षतिग्रस्त, गुस्साए ग्रामीणों ने किया सड़क जाम l

टिकरी बॉर्डर पर वकील ने निगला जहरीला पदार्थ, PM के लिए लिखा नोट-‘कुछ लोगों के ही बनकर रह गए’

बहादुरगढ: दिल्ली में किसानों का धरना लगातार 1 महीने से जारी है वहीं आज सुबह किसानों के समर्थन में आए वकील ने जहरीला पदार्थ निगल कर आत्महत्या कर ली गई। गंभीर हालत में वकील को पीजीआई रोहतक रैफर किया गया है , जहां उनकी मौत हो गई। वकील अमरजीत सिंह फाजिल्का जिले की जलालाबाद बार एसोसिएशन के सदस्य थे ।
जानकारी अनुसार वकील ने टिकरी बॉर्डर से करीब 6 किलोमीटर दूर पकौड़ा चोक के पास जहरीला पदार्थ निगला था । उन्होंने प्रधानमंत्री के नाम लिखा पत्र भी छोड़ा। प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में अमरजीत ने तीनों कृषि कानूनों को किसान विरोधी बताया । उन्होंने किसान आंदोलन के समर्थन में अपना बलिदान देने की बात लिखी।
अमरजीत सिंह ने पत्र में लिखा प्रधानमंत्री कुछ लोगों के ही बनकर रह गए। तीनों कृषि बिल किसान ,मजदूर और आम आदमी का जीवन तबाह कर देंगे। किसानों ,मजदूर और आम आदमी की रोजी रोटी मत छीनो। बताया जा रहा है कि पीड़ित वकील प्रधानमंत्री के नाम पत्र पहले से टाइप कर लाया था।  टाइप्ड पत्र में हाथ से लिखा न्यायपालिका भी जनता का विश्वास खो चुकी है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।