पुणे के इन पर्यटक स्‍थलों पर भी जल्‍द लग सकता है Night curfew, जिला कलेक्‍टर ने राज्‍य सरकार को भेजा पत्र

पुणे। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए नए साल के जश्‍न पर अंकुश लगाने के लिए पुणे जिला प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को राज्‍य सरकार को पत्र लिखकर जिले के कुछ लोकप्रिय स्‍थानों पर रात का कर्फ्यू लगाने की मांग की है। जिला कलेक्टर राजेश देशमुख के अनुसार 25 दिसंबर की मध्यरात्रि से लेकर 5 जनवरी की मध्यरात्रि तक पुणे की नागरिक सीमा और लोनावाला, आंबी घाटी, मुल्शी बांध, तहमीनी घाट, खडकवासला और लवासा जैसे कुछ स्थानों पर रात के कर्फ्यू लगाने की मांग की गई है।

कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए, राज्य सरकार को इन स्थानों पर रात के कर्फ्यू लगाने के लिए एक प्रस्ताव भेजा गया है, जहां पर्यटक नए साल का जश्न मनाने के लिए जाते हैं। देशमुख ने कहा कि हम सरकार के आदेश की प्रतीक्षा कर रहे हैं। महाराष्‍ट्र सरकार ने मंगलवार से राज्‍य के नगर निगमों में नाइट कर्फ्यू लगाने को ऐलान किया था। सरकार का यह आदेश 22 दिसंबर 2020 से 5 जनवरी 2021 तक प्रभावी रहेगा। इस दौरान राज्य के सभी नगर निगमों में रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू की पाबंदियां लागू रहेगी।

गौरतलब है कि ये पाबंदियां ब्रिटेन में पाई गई कोरोना की नई स्‍ट्रेन को देखते हुए लगायी गई है। संक्रमण को देखते हुए यूरोप और मध्य पूर्व के देशों से आने वाले सभी यात्रियों 14 दिन इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन में अनिवार्य रूप से रहना होगा। इसके अलावा अन्य अंतर्राष्ट्रीय गंतव्यों से आने वाले यात्रियों के लिए भी 14 दिन का होम क्‍वारंटाइन अनिवार्य है। बता दें कि पुणे जिले में अब तक 3,59,090 कोरोनावायरस पॉजिटिव मामले सामने आए हैं, जहां वायरस ने 8,744 मरीजों की जान ले ली है।

Whats App