Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

किसान दिवस पर रक्षामंत्री ने जताई उम्‍मीद, कहा- पूरी संवेदना के साथ किसानों से बात कर रही है सरकार; जल्‍द खत्‍म होगा आंदोलन

नई दिल्‍ली। किसान दिवस (Farmers’ Day) के मौके पर बुधवार को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने कहा कि केंद्र पूरी संवेदनशीलता के साथ आंदोलन कर रहे किसानों से बात कर रहे हैं। साथ ही रक्षामंत्री ने उम्‍मीद जताई की जल्‍द ही यह आंदोलन खत्‍म हो जाएगा। कृषि कानूनों में बदलाव के विरोध में जारी किसानों का आंदोलन 28वें दिन बुधवार को भी जारी है। केंद्रीय मंत्री ने ट्वीट कर बताया, ‘किसान दिवस के मौके पर आज मैं देश के सभी कंट्रीब्‍यूटर्स का अभिवादन करता हूं। उन्‍होंने देश को खाद्य सुरक्षा मुहैया कराया।

कुछ किसानों ने कृषि कानूनों के लिए आंदोलन किया है। सरकार उनसे पूरी संवेदनशीलता के साथ बात कर रही है। मुझे उम्‍मीद है कि जल्‍द ही वे अपने आंदोलन को वापस ले लेंगे।’ सिलसिलेवार ट्वीट में रक्षा मंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह (Prime Minister Chaudhary Charan Singh) को उनकी जयंती पर याद किया। उन्‍होंने आगे कहा, ‘चौधरी चरण सिंह चाहते थे कि देश के किसानों की आय बढ़े उनकी फसलों की वाजिब कीमत उन्‍हें मिले और किसानों का सम्‍मान सुरक्षित होना चाहिए। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने उनसे प्रेरणा लिया है और किसानों के हित में कई कदम भी उठाए। वे किसी भी हालत में किसानों को परेशान नहीं करना चाहते हैं।’

हर साल 23 दिसंबर को किसान दिवस मनाया जाता है। उल्‍लेखनीय है कि सोमवार से किसानों ने 24 घंटा लंबा भूख हड़ताल शुरू कर दिया। इसके तहत हर दिन 11 किसान भूख हड़ताल करेंगे।  किसान दिवस पर किसानों को समर्थन जताने के लिए भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने लोगों से खाना छोड़ने की अपील की थी। सरकार के साथ कई दौर की वार्ता रद होने के बाद भी दिल्‍ली एनसीआर की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन जारी है। 26 नवंबर से यह आंदोलन जारी है।