Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

डीएमके का तमिलनाडु में चुनावी शंखनाद, उधर निर्वाचन आयोग ने भी कसी कमर, तैयारियों का जायजा लेने जाएंगे अधिकारी

नई दिल्‍ली/चेन्नई। अगले साल अप्रैल-मई में पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। इसको लेकर चुनाव आयोग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इन्‍हीं तैयारियों के मद्देनजर आयोग ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को पश्चिम बंगाल का जायजा लेने के लिए भेजा था। समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक, अब निर्वाचन आयोग सोमवार को अपने वरिष्‍ठ अधिकारियों को तमिलनाडु और पुडुचेरी भेज रहा है। वहीं दूसरी ओर तमिलनाडु में प्रमुख विपक्षी दल द्रमुक ने रविवार को सत्तारुढ़ अन्नाद्रमुक के खिलाफ अपने चुनावी अभियान का आगाज किया है।

सूत्रों ने बताया कि निर्वाचन आयोग के महासचिव उमेश सिन्हा सोमवार और मंगलवार को तमिलनाडु में होंगे और बुधवार को पुडुचेरी पहुंचेंगे। वह वहां चुनाव की तैयारियों का जायजा लेने के साथ ही अधिकारियों से मुलाकात करेंगे। मालूम हो कि मुख्य निर्वाचन आयुक्‍त और अन्य आयुक्तों के राज्य का दौरा करने से पहले निर्वाचन आयोग के वरिष्ठ अधिकारी मतदाता सूची समेत विभिन्न तैयारियों का अवलोकन करते हैं। पिछले हफ्ते उप निर्वाचन आयुक्त सुदीप जैन इसी कवायद के तहत पश्चिम बंगाल के दौरे पर थे

मालूम हो कि पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी की विधानसभाओं का कार्यकाल अगले साल मई और जून के बीच पूरा हो रहा है। इन राज्‍यों में अप्रैल से जून महीने के बीच चुनाव कराए जाने की उम्मीद है। इस बीच डीएमके ने तमिलनाडु में एआइएडीएमके (AIADMK) के खिलाफ चुनावी अभियान शुरू किया है। डीएमके ने कृषि और शिक्षा जैसे मुद्दे उठाए और लोगों से अन्नाद्रमुक को हराने की अपील की। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, द्रमुक प्रमुख एमके स्‍टालिन ने चेन्‍नई में कहा कि हमारा लक्ष्‍य 200 से ज्‍यादा सीटें हासिल करना है

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन (MK Stalin) ने एक वीडियो में कहा कि पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता 16 हजार से अधिक गांवों और वार्डों का दौरा करेंगे ताकि ‘ग्राम सभाएं’ आयोजित की जा सकें। इस चुनावी अभियान के दौरान अन्नाद्रमुक सरकार के खिलाफ प्रस्तावों को स्वीकार किया जाएगा। साल 2011 से सत्ता से बाहर द्रमुक सत्ता में वापसी की पूरी कोशिश कर रही है।