शाह का ममता सरकार पर हमला, कहा- बंगाल में राजनीतिक हिंसा चरम पर, 300 से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के दौरे पर गए गृह मंत्री एवं भाजपा नेता अमित शाह ने रविवार को ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि कुछ दिन पहले जेपी नड्डा के काफि‍ले पर हुआ हमला केवल भाजपा अध्यक्ष पर हमला नहीं है। यह बंगाल के अंदर लोकतंत्र की व्यवस्था पर हमला है। भाजपा के कार्यकर्ताओं ने तय किया है कि हम हिंसा का जवाब लोकतांत्रिक तरीके से देंगे और आने वाले चुनाव में इस सरकार को हराकर दिखाएंगे।

शाह ने कहा कि कुछ दिन पहले हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष के बंगाल दौरे के दौरान उनपर TMC के कार्यकर्ताओं ने जिस तरह से हमला किया था, उसकी भाजपा निंदा करती है और मैं व्यक्तिगत रूप से भी इसकी निंदा करता हूं। टीएमसी कार्यकर्ताओं की ओर से किया गया हमला केवल भाजपा अध्यक्ष पर हमला नहीं है… यह बंगाल के अंदर लोकतंत्र की व्यवस्था पर हमला है। इसकी ज़िम्मेदारी TMC सरकार और TMC कार्यकर्ताओं की है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि बंगाल में राजनीतिक हिंसा चरम सीमा पर है, 300 से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्याएं कर दी गई हैं और उसकी जांच में एक इंच भी प्रगति दिखाई नहीं दे रही है। बंगाल की जनता परिवर्तन चाहती है। जनता तय कर चुकी है कि चुनाव के मैदान में इस बार कमल खिलेगा। यह परिवर्तन बंगाल के विकास के लिए है… यह परिवर्तन बांग्लादेश से घुसपैठ रोकने के लिए है… यह परिवर्तन हिंसा खत्‍म करने के लिए है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल के लोग अब बदलाव चाहते हैं। बंगाल के लोगों ने सभी को मौका दिया है। मेरी आपसे गुजारिश है कि इस बार एक मौका नरेंद्र मोदी को दीजिए। हम वादा करते हैं कि पांच साल में ‘सोनार बांग्ला’ के सपने को साकर करेंगे। मालूम हो कि अमित शाह पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर हैं। रविवार को दौरे के अंतिम दिन उन्‍होंने बीरभूम जिले में हनुमान मंदिर स्टेडियम रोड से बोलपुर सर्कल तक रोड शो किया।

इस रोड शो में समर्थकों की भारी भीड़ जुटी। इसके साथ ही शाह ने बंगाल में चुनावी शंखनाद किया और जय श्री राम के नारे भी लगाए। शाह ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष रहते हुए मैंने बहुत सारे रोड शो देखे नेकिन आज जैसा रोड शो मैंने अब तक नहीं देखा। यह रोड शो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति बंगाल के लोगों के प्यार और विश्वास को दिखाता है। वह शांति निकेतन स्थित विश्व भारती विश्वविद्यालय भी गए जहां उनके आगमन पर सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए गए।

Whats App