Logo
ब्रेकिंग
Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार

Saraykela पुलिस ने सुनियोजित गिरोह का खुलासा कर दस अपराधियों को किया गिरफ्तार

 सरायकेला- खरसावां  : झारखंड के सरायकेला- खरसावां पुलिस को एकबार फिर से बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. जहां पिछले दिनों जिले के आरआईटी थाना क्षेत्र के केसरी गैस दोदाम के समीप रेलवे साइट पर हुए बमबारी और गोली कांड मामले का जिला पुलिस ने खुलासा करते हुए एक बड़े और सुनियोजित गिरोह का खुलासा किया है.

वहीं जिला पुलिस ने इस घटना का उद्भेदन करते हुए मामले से जुड़े दस अपराधकर्मियों को भी गिरफ्तार किया है, जिनके पास से पुलिस ने दो 7. 65 बोर का पिस्टल, एक देशी पिस्टल दो दर्जन से भी अधिक जिंदा कारतूस, दो कार, दो मोटरसायकल, एक दर्जन से ज्यादा मोबाईल फोन, 6 अलग- अलग कंपनियों के सिम बरामद किए हैं. वहीं गिरफ्तार अपराधकर्मियों के नाम ओमी राव, सुनील तिवारी, राकेश पांडे, लालेश वारले, परमेश्वर दास, शशिभूषण भारती, रतन तिउ, हसीमुद्दीन अंसारी, जयकान पांडेय और सुनील ठाकुर बताया जाता है. वहीं जानकारी देते हुए जिले के एसपी मोहम्मद अर्शी ने बताय कि लॉकडाउन के दौरान कमजोर हुए आपराधिक गिरोह अब नए सिरे से फिर से गैंग तैयार करने में जुटे हैं. साथ ही पड़ेसी जिला जमशेदपुर में अखिलेश गिरोह के कमजोर होने के कारण ये अपराधी नए सिरे से बाहर के शूटरों का सहारा लेकर जमशेदपुर- चाईबासा और सरायकेला के कई बड़े प्रोजेक्ट और कंपनियों खासकर रेलवे के काम में बाधा पहुंचाने की योजना बना रहे थे. वहीं एसपी ने बताया कि इनके गिरोह में और भी लोग हैं, जिनके खिलाफ छापेमारी की जा रही है. उन्होंने बताया कि इस गिरोह में पांच अपराधी हैं, जबकि पांच अन्य पेटी कांट्रैक्टर और जमीन कारोबारी हैं. उन्होंने बताया कि इस गिरोह का मकसद इलाके में दहशत फैलाना था. सभी गिरफ्तार अपराधियो का पूर्व में जमशेदपुर व अन्य जिलों में आपराधिक इतिहास रहा है. फिलहाल जिला पुलिस के लिए इसे बड़ा कामययाबी के रूप में देखी जा रही है..