महाराष्ट्र सरकार ने दी शूटिंग की सशर्त इजाज़त, निर्माताओं को इन नियमों का करना होगा पालन

yamaha

नई दिल्ली। कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से थमी मनोरंजन जगत की रफ़्तार धीरे-धीरे लौटने लगी है। महाराष्ट्र सरकार ने संक्रमण रहित इलाक़ों में फ़िल्मों और टीवी धारावाहिकों की शूटिंग शुरू करने की अनुमति दे दी है। हालांकि इसके लिए निर्माताओं को पहले महाराष्ट्र सरकार के फ़िल्म विभाग से इजाज़त लेनी होगी।

देश में कोरोना वायरस के प्रकोप को थामने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को संपूर्ण लॉकडाउन का एलान किया था, जिसके बाद फ़िल्मों और टीवी धारावाहिकों की शूटिंग पूरी तरह बंद कर दी गयी। सारे कलाकार अपने घरों में सेल्फ़ आइसोलेशन में चले गये थे। अब 8 जून से शुरू हुए अनलॉक वन के तहत शूटिंग फिर से जारी करने की कवायद शुरू की जा रही है।

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को महाराष्ट्र सरकार ने इस संबंध में एक आदेश जारी किया। इस आदेश के मुताबिक, महाराष्ट्र के नॉन केंटेनमेंट ज़ोंस में फ़िल्मों, टीवी धारावाहिकों और वेब सीरीज़ की शूटिंग शुरू की जा सकती है।

कल्चरल अफेयर्स मिनिस्ट्री के अनुसार, निर्माताओं को प्री-प्रोडक्शन और पोस्ट प्रोडक्शन में सरकार द्वारा निर्धारित गाइडलाइंस का पालन करना होगा। उल्लंघन करने पर का बंद कर दिया जाएगा। निर्माताओं को गोरेगांव स्थित पहले महाराष्ट्र, फ़िल्म, थिएटर, कल्चरल डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक के यहां आवेदन करना होगा। अगर शूट मुंबई से बाहर है तो संबंधित जिला कलेक्टर से सम्पर्क करना होगा।

सरकारी गाइडलाइंस के अनुसार, निजी स्वच्छता के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। शूटिंग के दौरान भीड़ जमा नहीं होनी चाहिए। सेट पर एयरकंडीशन निर्धारित नियम के तहत चलाए जाएंगे। शूटिंग उपकरण, कलाकारों और तकनीशियनों को ले जाने में सावधानी बरतनी होगी। बता दें कि महाराष्ट्र में संक्रमित इलाक़ों में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ा दिया गया है।

लॉकडाउन से पहले जिन फ़िल्मों की शूटिंग जारी थी, उनमें कार्तिक आर्यन की भूल भुलैया 2, अजय देवगन की मैदान, शाहिद कपूर की जर्सी, अक्षय कुमार की बच्चन पांडेय शामिल हैं।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.