बाबाराम देव का कोरोना को खत्म करने का दावा, बोले पतंजलि में दवा पर शोध हुआ पूरा

yamaha

 पूरे विश्व में जहां कोविड-19 जैसी महामारी के कारण जहां पर लाखों लोग मौत के मुंह में जा चके हैं, वहीं लंबे अरसे बाद योग गुरू रामदेव देव ने इस वायरस का सौ फीसदी तोड़ ढूंढने का दावा किया है। योग गुरू ने कहा है कि गिलोय (Giloy) और अश्वगंधा (Ashwagandha) कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में 100 फीसदी कारगर है।

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक बाबा रामदेव ने कहा है कि पंतजंलि ने अपना शोध पूरा कर लिया है और जल्द ही इसे दुनिया के समक्ष रखा जाएगा। उन्होंने यह भी कहा है कि जिन रोगियों को यह दोनों तत्व दिए गए हैं वो 100 प्रतिशत  ठीक हुए हैं। इस मीडिया रिपोर्ट में योग गुरू ने बताया है कि कोरोनावायरस शरीर में प्रवेश करने के बाद पूरी प्रतिरोधक प्रणाली को प्रभावित करता है। उन्होंने दावा किया कि गिलाए के सेवन से इस संक्रमण पूरी तरह ठीक हो जाता है।

बाबा रामदेव ने कहा कि आयुर्वेद में कोरोनावायरस का इलाज है। आयुर्वेद न केवल कोरोना वायरस के लक्षणों को समाप्त कर सकता है, बल्कि यह इस संक्रमण को जड़ से खत्म भी कर सकता है। गौरतलब है कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली के वैज्ञानिकों के एक समूह ने एआईएसटी, जापान के साथ मिलकर किए गए एक शोध में यह भी पाया है कि आयुर्वेदिक जड़ी बूटी, अश्वगंधा ,में COVID-19 से लड़ने में मजबूत क्षमता है।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.