असम के तिनसुकिया में गैस कुएं से अभी भी निकल रही आग की लपटें, दो लोगों की मौत

yamaha

गुवाहाटी। असम के तिनसुकिया जिले में स्थि​त सरकारी गैस कंपनी ऑयल इंडिया के तेल के कुएं में से आग की लपटें अभी निकल रही हैं। हालात पर काबू पाने के लिए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर मौजूद है। अब आस-पास की गांवों में आग फैलने और दो लोगों की मौत की खबरें आ रही हैं। दोनों शव बरामद कर लिए गए हैं। गौरतलब है कि इस कुएं से पिछले 14 दिनों से गैस का अनियंत्रित रिसाव हो रहा था। मंगलवार को आग लग गई। दोपहर बाद लगी आग इतनी भयंकर थी कि इसे दो किलोमीटर से अधिक की दूरी से देखा जा सकता था। सिंगापुर की फर्म अलर्ट डिजास्टर कंट्रोल के तीन विशेषषज्ञ घटनास्थल पर ही थे, जब कुएं में आग लगी। उस समय कुएं से कुछ उपकरण निकाले जा रहे थे।

जानकारी के अनुसार रिसाव शुरू होने के साथ ही 700 परिवारों के 35,000 लोगों को  तीन राहत शिविरों में भेज दिया गया था। पर्यावरण एवं वन मंत्री परिमल सुखाबैद्य ने कहा कि असम सरकार गैस कुएं में लगी आग को काबू करने की पूरी कोशिश कर रही है। स्थिति अब तक अनियंत्रित है। मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने केंद्र सरकार के मंत्रियों से बात की है। असम सरकार आग पर काबू पाने की पूरी कोशिश कर रही है और अधिकारी स्थिति को नियंत्रित करने के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि  कहा कि आग आसपास के गांवों में फैल गई है।

ANI

@ANI

Fire continues to rage at the gas well of Oil India Ltd at Baghjan in Tinsukia district, 2 persons dead.

एम्बेडेड वीडियो

137 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

आग आस-पास के गांवों में फैली

सुखाबैद्य ने कहा, ‘घटना करीब 6 लोग घायल हुए हैं। आग आस-पास के गांवों में फैल गई। हम चिंतित हैं। ऑयल इंडिया लिमिटेड का कहना है कि 6-7 दिनों में स्थिति नियंत्रित हो जाएगी। हम स्थिति को नियंत्रित करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।’ इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर बताया कि मुख्यमंत्री सोनोवाल ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान से घटना के संबंध में फोन पर बात की है। सोनोवाल ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी बात की, ताकि आग बुझाने में वायु सेना की मदद मांगी जा सके।

आपातकालीन सेवाओं को  घटनास्थल पर तैनात करने का निर्देश 

मुख्यमंत्री ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए अग्निशमन और आपातकालीन सेवाओं, सेना और पुलिस अधिकारियों को घटनास्थल पर तैनात करने का निर्देश दिया है। उन्होंने जिला प्रशासन को भी लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया और स्थानीय लोगों से नहीं घबराने की अपील की। गुवाहाटी में पत्रकारों से बात करते हुए सोनोवाल ने कहा कि आग को नियंत्रित करने के साथ ही लोगों की जान और संपत्तियों को बचाने के लिए सभी उपाय किए जाएंगे।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.