एकतरफा प्यार में सिरफिरे ने युवती के पिता का बेरहमी से कर दिया कत्ल, सोते समय चापड़ से काट दी गर्दन

कानपुर। एकतरफा प्यार के विरोध पर सिरफिरे युवक ने युवती के पिता की नृशंस हत्या कर दी। युवक ने सोते समय चापड़ से उनकी गर्दन पर ताबड़तोड़ प्रहार किए थे। वारदात की जानकारी सुबह हुई। पुलिस ने फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वॉड की मदद से चंद घंटे में ही घटना का राजफाश कर दिया। आरोपित युवक को हिरासत में लेकर उसके घर से चापड़ और खून से सने कपड़े बरामद कर लिए गए हैं।

मुंशीपुरवा निवासी 45 वर्षीय मो. अशरफ स्क्रैप का काम करते थे। पत्नी शबनम की आठ साल पहले बीमारी से मौत हो चुकी है। परिवार में बेटी और बेटा है। स्वजनों ने बताया कि सोमवार रात खाना खाने के बाद अशरफ छत पर सोने चले गए थे। सुबह बेटा जब उन्हें उठाने गया तो खून से लथपथ पिता का शव देखकर घबरा गया। चीख पुकार पर लोग एकत्रित हो गए। पुलिस ने फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वॉड को बुलाकर जांच शुरू की तो पड़ोसी की छत पर भी खून के छींटे दिखे। शक के आधार पर पड़ोसी फहीम को हिरासत में ले लिया। घर की तलाशी ली गई तो वारदात में प्रयुक्त चापड़ बरामद हो गया। एसपी साउथ अपर्णा गुप्ता ने बताया कि आरोपित युवक अशरफ की बेटी से एकतरफा प्यार करता था। इसका विरोध करने पर उसने हत्या कर दी।

डॉग स्क्वॉड ने हत्यारे तक पहुंचाया

फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वॉड ने मामले की जांच की तो खोजी कुत्ता पड़ोसी फहीम के घर तक गया। छत पर खून के छींटे मिलने के बाद पुलिस का शक और पुख्ता हुआ। आरोपित को हिरासत में लेकर घर की तलाशी ली तो खून से सने कपड़े और चापड़ बरामद हो गया। सख्ती से पूछताछ के बाद फहीम ने गुनाह कबूल लिया। हत्यारोपित फहीम ने बताया कि अशरफ की छत तक पहुंचने के लिए सीढ़ी का सहारा लिया था। हत्या के बाद सीढ़ी के सहारे में ही लौट आया था।

अशरफ को अड़चन मानता था फहीम

पुलिस के मुताबिक फहीम मुंबई में नौकरी करता था। लॉकडाउन से पहले ही वह घर लौटा। उसने युवती पर दोस्ती करने का दबाव डाला। युवती ने पिता अशरफ से इसकी शिकायत की। उन्होंने विरोध किया तो फहीम उन्हें अड़चन मानने लगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार उसने अशरफ के गले पर चापड़ से ताबड़तोड़ चार-पांच वार किए थे। अधिक खून बहने से उनकी मौत हो गई।

Whats App