अमृतसर में पकड़ा गया सीबीआइ का एडीजीपी बनकर ठगी कर रहा शख्‍स

yamaha

अमृतसर। यहां  सीबीआइ का एडीजीपी (क्राइम) बनकर ठगी करने वाले व्‍यकित को गिरफ्तार किया गया है। यह नकली एडीजीपी खुद को लोगों को नौकरी लगवाने का लालच देकर फंसाता था। आरोपित के कब्जे से फर्जी पहचान पत्र और कई फर्जी दस्तावेज मिले हैं। वह यहां एक बैक मैनेजर को चूना लगाने की कोशिश कर रहा था।

पुलिस के अनुसार आरोपित ने एक्सिस बैंक के डिप्टी मैनेजर दिलप्रीत सिंह को सीबीआई ने बतौर इंस्पेक्टर की नौकरी लगवाने का झांसा दिया थाा और उससे 15 लाख रुपये में डील की थीl फर्जी के एडीजीपी ने बीते दिन ₹1.6 लाख रुपये टोकन मनी के नाम पर ले ली थीl

पकड़े गए नकली एडीजीपी की पहचान महाराष्ट्र के नांदेड़ जिला स्थित गगन पुरा न्यू गोंडा निवासी प्रवीण कुमार के रूप में बताई गई है l प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि फर्जी एडीजीपी अमृतसर के अलावा कई जिलों में लोगों को झांसा देकर ठगी कर चुका है।

 बताया जाता है कि सेन तीन बार की मुलाकात में बैंक के डिप्टी मैनेजर को अपने शिकंजे में फंसा लिया था। बतया जाता हे कि फर्जी एडीजीपी की पत्‍नी का खाता इसी बैंक में था1 वह पहले पत्‍नी के खाते की जानकारियां लेने के बहाने डिप्‍टी बैंक मैनेजर के पास पहुंचा था और जान-पहचान बनाने के बाद उसे नौकरी का झांसा दिया था। शक हाेने पर डिप्‍टी बैंक मैनेजर ने पुलिस को शिकायत दे दी और आरोपित अपने ही जाल में फंस गया।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.