INTUC: राजेंद्र बाबू के बेटे अनूप बने राष्ट्रीय खान मजदूर फेडरेशन के अध्यक्ष, अब इंटक में चलेगी वंशवाद की राजनीति

yamaha

धनबाद। कांग्रेस में वंशवाद की राजनीति पर कुछ कहने की जरूरत नहीं है। अब कांग्रेस से जुड़े मजदूर संगठन इंटक में भी वंशवाद की राजनीति चलेगी। इंटक के राष्ट्रीय महामंत्री विधायक राजेंद्र  प्रसाद सिंह के निधन के बाद रिक्त पदों पर अब उनके बेटे की ताजपोशी हो रही है। सिंह के बेटे जयमंगल सिंह उर्फ अनूप सिंह को कोयला उद्योग में  कार्यरत संगठन राष्ट्रीय खान मजदूर फेडरेशन (INMF) का अध्यक्ष बनाया गया है। इस पद पर अनूप के पिता राजेंद्र बाबू 1997 से विराजमान थे। 24 मई, 2020 को सिंह को निधन हुआ। उसके बाद से अध्यक्ष का पद रिक्त था।

इंटक के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने फोन पर की घोषणा

इंटक से संबद्ध राष्ट्रीय खान मजदूर फेडरेशन की बैठक बोकारो जैनामोड़ में रविवार को हुई। बैठक में सर्वप्रथम फेडरेशन के अध्यक्ष एवं इंटक के राष्ट्रीय महामंत्री राजेंद्र प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि दी गई एवं शोक प्रस्ताव पारित किया गया।इस दौरान खाली पड़े अध्यक्ष पद के भरने को लेकर वरीय सदस्यों के साथ राय विचार किया गया। बैठक के दौरान सेक्रेटरी जनरल एसक्यू जामा ने महासचिव अनूप सिंह को कार्यकारी अध्यक्ष बनने का प्रस्ताव ले आए। कई वरीय सदस्यों ने इस प्रस्ताव पर अपनी सहमति भी दी। फेडरेशन के डिप्टी जनरल सेक्रेटरी वीरेंद्र प्रसाद अंबष्ठ व मिथलेश सिंह ने अनूप को स्थाई रूप से अध्यक्ष पद देने की बात मंच से की। इस दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजीवा रेड्डी ने दो बार फोन पर बैठक में शिरकत करते हुए अध्यक्ष पद पर अपनी सहमति देते हुए घोषणा की। राष्ट्रीय सचिव वह राजेंद्र सिंह के पुत्र जय मंगल सिंह उर्फ अनूप सिंह ने यह दायित्व संभाल लिया। मालूम हो कि 1997 से राजेंद्र प्रसाद सिंह फेडरेशन के अध्यक्ष पद काबिज थे। इस पद को कई दिग्गज नेताओं ने संभाला है। 1949 में इस फेडरेशन का गठन हुआ था।

बैठक में उपस्थिति

बैठक में फेडरेशन के महासचिव एस क्यू जामा , ओपी लाल बृजेंद्र सिंह, मन्नान मल्लिक एके झा, संतोष महतो एसएस जामा, सुरेश चंद्र झा, गिरजा शंकर पांडेय, चंडी बनर्जी,  श्यामल सरकार, महेंद्र विश्वकर्मा, अजब लाल शर्मा, केबी सिंह, योगेशपति त्रिपाठी, चंडी बनर्जी,  सुरेश झा, डा. अरूण सिंह, रामप्रीत यादव, मिथलेश सिंह, लगनदेव यादव, पीएन तिवारी, सुरेंद्र यादव सहित बीसीसीएल, सीसीएल, ईसीएल, सीएमपीडीआइएल के प्रतिनिधि मौजूद थे, जो बैठक में नहीं पहुंच पाए उन्होंने फोन पर बातचीत करते हुए अपनी सहमति दी।

सबको लेकर करेंगे काम
फेडरेशन का अध्यक्ष बनने के बाद अनूप सिंह ने कहा कि सबको साथ लेकर काम करेंगे। मुझे सीखना है। कई चुनौतियां हैं, उन चुनौतियों को मिलकर ही लड़ा जा सकता है।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.