राजनगर के टीटीडी पंचायत अंतर्गत वालीजुड़ी में पेयजल के लिए ग्रामीण त्राहि त्राहि माम है।

राजनगर प्रखंड के टी.टी.डीह पंचायत अंतर्गत बालीजुड़ी गांव में 25000 लीटर का पानी नीर निर्मल परियोजना के तहत 2 वर्ष पहले लगाई गई थी ।और पिछले 6 महीने से एक मोटर खराब हो चुका है। और दूसरा मोटर चल रहा है इसी कारण ग्रामीणों को पाइपलाइन के सहारे केवल एक वक्त ही पानी मिल पाता है और वह भी बड़ी मुश्किल से।

बताया जा रहा है इस गांव में 85 घर व परिवार है जिसमें लगभग 70 घरों में पाइपलाइन की सुविधा दी गई है मोटर खराब होने के पहले दो वक्त पानी मिल पाता था सुबह 6:00 बजे और शाम को 5:00 बजे । वह भी मात्र 20 मिनट तक । एक मोटर खराब होने के बाद केवल एक वक्त ही पानी मिल पाता है वह भी 20 मिनट के लिए। उसके बाद पूरे दिन भर पानी के लिए तरस जाते हैं ग्रामीण। क्योंकि इस गांव में चार नलकूप लगे हुए हैं जिसमें दो नलकूप पिछले 1 वर्षों से खराब पड़ा है और दो नलकूप है जिसमें गंदा पानी निकलता है जो पीने योग्य नहीं है । ग्रामीणों को कुएं के पानी के सहारे रहना पड़ता है। या फिर दूसरे गाँव से पानी लानी पड़ती है।

 

गांव की जलसहिया का कहना है कि इसकी शिकायत भी आला अधिकारियों की गई थी लेकिन अब तक कोई पहल नहीं की गई ।और आला अधिकारियों की चुप्पी के कारण ग्रामीणों को जल सकंट उत्पन्न हुई है। अब देखना ये है कि कब तक पेजयल की समस्या दूर होती है।

सरायकेला/राजनगर से रवि कांत गोप की रिपोर्ट

Whats App