Logo

सोनिया गांधी की केंद्र को नसीहत-मनरेगा को BJP VS कांग्रेस का मुद्दा न बनाएं, इससे गरीबों की करें मदद

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार से मांग की कि लोगों की मदद के लिए मनरेगा स्कीम का इस्तेमाल किया जाए। एक अंग्रेजी अखबार में लेख के जरिए अपनी बात रखते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि मनरेगा भाजपा बनाम कांग्रेस की बात नहीं है और न ही इसे मुद्दा बनाया जाए। सरकार मनरेगा जैसी योजना को देशवासियों की मदद के लिए इस्तेमाल करे। सोनिया गांधी ने अंग्रेजी अखबार में लिखे लेख ओपिनियन पीस में लिखा कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना एक क्रांतिकारी और तर्कसंगत व्यवस्था परिवर्तन का शानदार उदाहरण है। सोनिया ने लिखा कि एक सरकार जिसने इस योजना को बदनाम करने की कोशिश की, ये उसी सरकार के काम आई, उसने खुद अनिच्छा से ही इस पर भरोसा करने के लिए इन्हें मजबूर कर दिया।

सोनिया ने लिखा कि मनरेगा तर्कसंगत है क्योंकि यह उन लोगों के हाथों में सीधे पैसा डालता है जिन्हें इसकी सबसे ज्यादा जरूरत होती है। उन्होंने कहा कि देश इस समय जब कोरोना संकट से जूझ रहा है तो भुखमरी और बर्बादी को रोकने के लिये ये योजना बेहद अहम है। सोनिया ने लिखा कि यह संकट का समय मदद करने का है न कि राजनीति करने का इसलिए सरकार इस योजना का उपयोग करके लोगों को बड़ी राहत दे सकती है। बता दें कि सोनिया गांधी से पहले राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा समेत कई कांग्रेसी नेता मांग कर चुके हैं कि जो जरूरतमंद हैं उन्हें इस संकट की घड़ी में सीधे हाथ में पैसा दिया जाए। मनरेगा योजना यूपीए सरकार के दौरान शुरू की गई थी।

nanhe kadam hide
ब्रेकिंग
ठंड के मद्देनजर उपायुक्त ने किया रामगढ़ शहर के विभिन्न क्षेत्रों का निरीक्षण । जिले में चल रहे विकास कार्यों की उप विकास आयुक्त ने की समीक्षा। अवैध खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन द्वारा की गई कार्रवाई । एड्स दिवस एवं टीबी जागरूकता के तहत हुआ कार्यक्रम का आयोजन । 02 करोड़ 48 लाख की लागत से 64 बेड के छात्रावास और कॉलेज भवन के मरम्मती कार्य का हुआ भूमि पूजन रामगढ़ छावनी सीइओ पर अधिनियम की धज्जियां उड़ाने का पूर्व विधायक शंकर चौधरी ने लगाया आरोप । भाजपा नेता ऋषिकेश सिंह जनसेवा के तहत लोगो के वोटर कार्ड से आधार को करवा रहें है लिंक। रामगढ़ विधायक ममता देवी रामगढ़ छावनी परिषद की बैठक में हुई शामिल। उपायुक्त ने सुनी जनता की समस्याएं, जल्द निष्पादन का अधिकारियों को दिए निर्देश । 11 वीं कृषि गणना 2021-22 के तहत उपायुक्त की अध्यक्षता हुआ प्रशिक्षण का आयोजन।