Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रमुख ने लगाया ममता पर कोविड-19 के आंकड़े छिपाने का आरोप

कोलकाताः पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शनिवार को राज्य की ममता बनर्जी सरकार पर कोविड​​-19 संक्रमण के मामलों की संख्या में हेर फेर करने और जानबूझकर जांच परिणामों में देरी करने का आरोप लगाते हुए मांग की कि राज्य सरकार कोरोना वायरस की स्थिति पर एक ‘‘श्वेत पत्र” प्रकाशित करे।

घोष ने मीडिया से कहा कि जांच परिणामों में देरी के कारण वायरस के सामुदायिक स्तर पर फैलने की आशंका पैदा हो रही है और कई लोगों की जांच परिणाम आने से पहले ही मौत हो रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार संक्रमण की वास्तविक स्थिति को छिपाने के लिए हर रोज भ्रामक आंकड़े जारी कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार जांच प्रक्रिया में भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद को शामिल नहीं कर रही है ताकि ‘‘वास्तविकता सामने न आए”।

उन्होंने कहा, ‘‘ इन परिस्थितियों में हम राज्य सरकार से कोविड-19 से संक्रमित मरीजों की कुल संख्या, वायरस से होने वाली मौत की कुल संख्या, हर दिन की गई जांचों की कुल संख्या, परिणाम आने में लगने वाले समय आदि की जानकारी पर एक श्वेत पत्र पेश करने की मांग करते हैं।” घोष ने बनर्जी पर चक्रवात अम्फान में कुल प्रभावित लोगों के बारे में गलत आंकड़े देने का भी आरोप लगाया।