Logo
ब्रेकिंग
स्वीप के तहत मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने हेतु विभिन्न कार्यक्रमों का हुआ आयोजन। कांग्रेसी नेता बजरंग महतो ने किया जनसंपर्क, दर्जनों ने थामा कांग्रेस का दामन । माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव भंडारा के साथ संपन्न युवक ने प्रेमिका के लवर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देकर कुएं में फेंकी लाश । 1932 खतियान राज्यपाल ने किया वापस, झामुमो में आक्रोश, किया विरोध, फूंका प्रधानमंत्री का पुतला । रामगढ़ विधानसभा उपनिर्वाचन 2023 के मद्देनजर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता कराटे बेल्ट ग्रेडेशन टेस्ट सह प्रशिक्षण शिविर में 150 कराटेकार शामिल, उत्कृष्ट प्रदर्शनकारी को मिला ... श्रीराम सेना के विशाल हिंदू सम्मेलन में राष्ट्रवादी प्रखर प्रवक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और अंतरराष्... भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी

मद्रास हाई कोर्ट के तीन जजों को कोरोना, सुनवाई को सख्ती से सीमित करने का फैसला

चेन्नई। मद्रास हाई कोर्ट के तीन जजों का कोविड-19 परीक्षण पॉजिटिव निकला है, जिसके बाद प्रशासनिक समिति ने जजों के आवासों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये सीमित पीठों के साथ सुनवाई को सख्ती से सीमित करने का फैसला किया है।

हाई कोर्ट ने शुक्रवार को फैसला किया कि अब दो खंडपीठ और चार एकल जज आपात मामलों की सुनवाई करेंगे और सोमवार से यह सुनवाई हाई कोर्ट परिसर में न होकर, जजों के आवासीय चैंबरों से होगी। राज्य भर की सभी अधीनस्थ अदालतों में भी यही नियम लागू होंगे।

फिलहाल नौ जिला अदालतों में सीमित रूप से खुली कोर्ट में सुनवाई की अनुमति थी। हाई कोर्ट परिसर में 30 जून तक सभी का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। तीनों जजों के अलावा उनके कुछ निजी कर्मचारियों का भी कोरोना परीक्षण पॉजिटिव निकला है, जिसके चलते कोर्ट प्रशासन ने हाल ही में घोषित छूटों को वापस करने का निर्णय लिया है।

हालांकि, जजों ने वर्चुअल सुनवाई के बाद पिछले कुछ दिनों से कोर्ट परिसर में अपने चैंबरों से काम करना शुरू कर दिया था, लेकिन ताजा मामलों के बाद उन्होंने अपने फैसले को वापस लेते हुए घरों से ही वर्चुअल सुनवाई करने का फैसला किया।

nanhe kadam hide