बिल गेट्स ने माइक्रोसॉफ्ट के निदेशक मंडल से दिया इस्तीफा

yamaha

वाशिंगटन:  बहुराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के सहसंस्थापक बिल गेट्स ने कंपनी के निदेशक मंडल में अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। माइक्रोसॉफ्ट ने शुक्रवार को एक वक्तव्य जारी कर यह जानकारी दी। श्री गेट्स ने अपना पूरा समय सामाजिक कार्यों के लिए समर्पित करने का फैसला किया है इसलिए वह इस जिम्मेदारी से मुक्त हो रहे हैं। श्री गेट्स वैश्विक स्वास्थ्य, विकास, शिक्षा और जलवायु परिवर्तन समेत अन्य सामाजिक मुद्दों पर अधिक से अधिक काम करना चाहते हैं।

वक्तव्य के मुताबिक 64 वर्षीय श्री गेट्स माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) सत्या नडेला और कंपनी के अन्य अधिकारियों के सलाहकार की भूमिका निभाते रहेंगे। श्री गेट्स ने अपने इस्तीफे की घोषणा करते हुए कहा, ‘‘ यह कंपनी हमेशा मेरे जीवन के कार्यों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहेगी।” उन्होंने सामाजिक कार्यों को लेकर कहा, ‘‘मैं अपनी दोस्ती और साझेदारी को बनाए रखने के लिए इसे एक अवसर के रूप में देख रहा हूं जो मेरे लिए सबसे ज्यादा मायने रखता है। मैं दुनिया के सामने मौजूद सबसे कठिन चुनौतियों से निपटने की दिशा में काम करने की अपनी प्रतिबद्धता को प्राथमिकता देना चाहता हूं।”

गौरतलब है कि श्री गेट्स ने 1975 में पॉल एलन के साथ मिलकर माइक्रोसाफ्ट की स्थापना की थी और वह वर्ष 2000 तक इसके सीईओ रहे थे। श्री गेट्स के इस्तीफे के बाद अब कंपनी के निदेशक मंडल में 12 सदस्य बचे हैं। इसमें माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला भी शामिल हैं। श्री नडेला ने कहा कि बिल गेट्स के साथ काम करना गौरव की बात है।गेट्स ने इस कंपनी की स्थापना सॉफ्टवेयर के जरिए लोगों की परेशानियों को दूर करने के उद्देश्य से की थी। उन्होंने कहा कि माइक्रोसॉफ्ट उनके लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में काम करता रहेगा। वर्ष 2008 में बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा गेट्स ने सामाजिक कार्यों में योगदान करने के लिए ‘बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन’ की स्थापना की थी।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.