CoronaVirus को लेकर डोनाल्‍ड ट्रंप ने घोषित किया राष्‍ट्रीय आपातकाल

yamaha

वाशिंगटन। कोरोना से बेकाबू होते हालात को देखते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप देश में राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा की है। इससे संघीय आपातकाल प्रबंधन एजेंसी (एफईएमए) से राज्यों और स्थानीय सरकारों को अधिक धन और सहायक टीम के मिलने का रास्ता साफ हो जाएगा। एफईएमए के पास करीब 40 अरब डॉलर (लगभग 2.8 लाख करोड़ रुपये) की निधि है, जो कांग्रेस ने आवंटित किया है।

ओहियो में एक लाख हो सकते हैं पीड़ित

इस बीच, अमेरिका के ओहियो प्रांत की स्वास्थ्य निदेशक एमी एक्टन ने गवर्नर माइक डीविने के साथ प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि राज्य में कोरोना पीड़ि‍तों की संख्या एक लाख हो सकती है। उन्होंने कहा कि इस वायरस का सामुदायिक प्रसार बहुत तेज हो रहा है। अगर एक फीसद आबादी भी इससे प्रभावित होती है तो कुल लगभग एक करोड़ दस लाख से ज्यादा की आबादी के हिसाब से यह संख्या एक लाख बैठती है। इससे समझा जा सकता है कि यह वायरस कितनी तेजी से फैल रहा है।

कॉलेज, विश्वविद्यालय बंद होने से छात्रों में अनिश्चितता

अमेरिका के कई राज्यों में कोरोना वायरस के चलते स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय बंद किए जाने से छात्रों में अनिश्चितता का माहौल है। खासतौर पर विदेशी छात्रों के सामने समस्या खड़ी हो गई है। कम आय वाले छात्रों में चिंता इस बात को लेकर है कि क्या वे घर लौटने का खर्च उठा सकते हैं? जबकि अंतरराष्ट्रीय छात्र ऑनलाइन क्लासेज को लेकर चिंतित हैं क्योंकि उनके वीजा में आमतौर पर ऑनलाइन क्लासेज की अनुमति नहीं है। रिसर्च से जुड़े छात्र अपने प्रोजेक्ट पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर परेशान हैं।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.