Logo
ब्रेकिंग
मॉबली*चिंग के खिलाफ भाकपा-माले ने निकाला विरोध मार्च,किया प्रदर्शन छावनी को किसान सब्जी विक्रेताओं को अस्थाई शिफ्ट करवाना पड़ा भारी,हूआ विरोध व गाली- गलौज सूक्ष्म से मध्यम उद्योगों का विकास हीं देश के विकास का उन्नत मार्ग है बाल गोपाल के नए प्रतिष्ठान का रामगढ़ सुभाषचौक गुरुद्वारा के सामने हुआ शुभारंभ I पोड़ा गेट पर गो*लीबारी में दो गिर*फ्तार, पि*स्टल बरामद Ajsu ने सब्जी विक्रेताओं से ठेकेदार द्वारा मासूल वसूले जाने का किया विरोध l सेनेटरी एवं मोटर आइटम्स के शोरूम दीपक एजेंसी का हूआ शुभारंभ घर का खिड़की तोड़ लाखों रुपए के जेवरात कि चोरी l Ajsu ने किया चोरों के गिरफ्तारी की मांग I 21 जुलाई को रामगढ़ में होगा वैश्य समाज के नवनिर्वाचित सांसद और जनप्रतिनिधियों का अभिनंदन l उपायुक्त ने कि नगर एवं छावनी परिषद द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा।

Dumka नाबालिक बच्ची से दुष्कर्म व हत्या मामले में तीन आरोपियों को फांसी की सजा

Dumka:दुमका जिले के रामगढ़ में मासूम बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में स्थानीय न्यायालय ने आज फांसी की सजा सुनाई है। दुमका पॉस्को कोर्ट ने तीन दिनों तक इस मामले की लगातार सुनावाई की। इतना ही नहीं सोमवार को तो कोर्ट देर रात तक बैठकर सुनवाई पूरी की । पहले तीनों को दोषी करार दिया गया। फिर कोर्ट ने फांसी की सजा सुना दी।

बता दें कि यह घटना 5 फरवरी 2020 को घटी थी। इस मामले में 27 फरवरी को न्यायालय में आरोप गठन किया गया। इसके बाद सुनवाई शुरू हुई। तीन दिन की सुनवाई के बाद न्यायालय ने आरोपियों को दोषी करार दिया। तीनों को फांसी की सजा सुनाई गई है। घटना के 28 दिनों के अंदर ही दोषियों को सजा सुनाई गई।

6 साल की बच्ची से दुष्कर्म व हत्या मामले में तीन को फांसी, 3 दिनों की सुनवाई के बाद कोर्ट का फैसला आया।  दुमका जिले के रामगढ़ में छह वर्ष की मासूम बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में स्थानीय न्यायालय ने फांसी की सजा सुनाई है। दुमका पॉस्को कोर्ट ने तीन दिनों तक इस मामले की लगातार सुनावाई की। इतना ही नहीं सोमवार को तो कोर्ट ने देर रात तक बैठकर सुनवाई पूरी की।
पहले तीनों को दोषी करार दिया गया। फिर कोर्ट ने फांसी की सजा सुना दी।

दुमका पॉक्सो कोर्ट ने गैंगरेप और हत्या के मामले में तीनों अभियुक्तों मीठू राय, पंकज मोहली और अशोक राय को अपहरण, गैंगरेप और हत्या के मामले में दोषी करार दिया और कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई। रामगढ़ में पांच फरवरी को छ: साल की मासूम बच्ची के साथ रिश्ते के एक चाचा व उसके दो साथियों ने सामूहिक दुष्कर्म कर उस माशूम की हत्या कर दी थी। इस मामले पर पूरे देश की नजर बनी हुई थी । महज तीन दिनों में प्रथम जिला एवं सत्र न्यायाधीश तौफीकुल हसन की अदालत ने 16 गवाहों की गवाही सुनी और इस मामले में न्यायाधीश ने सभी आरोपियों को दोषी करार दिया और फांसी की सजा सुनाई।