गढ़वा में हाथियों का कहर, तीन घरों को ध्वस्त किया; दीवार के नीचे दबने से किशोर की मौत

yamaha

गढ़वा। गढ़वा जिले के भंडरिया थाना क्षेत्र के रोदो गांव में शनिवार की रात जंगली हाथियों के झुंड ने उत्पात मचाते हुए तीन ग्रामीणों के मिट्टी के घरों को ध्वस्त कर दिया। इस घटना में धनपत सिंह के 13 वर्षीय पुत्र रिशु सिंह की मौत हो गई। घटना के समय वह सो रहा था। हाथियों द्वारा घरों के ध्वस्त किए जाने से दीवार ढह गई और दीवार के नीचे दब जाने से रिशु की मौत हो गई।

हाथी करीब एक घंटे तक गांव में उत्पात मचाते रहे। इस दौरान ग्रामीण डरे-सहमे रहे। ग्रामीणों ने हिम्मत कर एक साथ टीन बजाना शुरू किया। इसके बाद हाथी जंगल की ओर भागे। इसके बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली। इस घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने रविवार की सुबह रिशु सिंह के शव के साथ भंडरिया-मेदिनीनगर मुख्य सड़क को जाम कर दिया। जाम के कारण सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

इसकी सूचना मिलने के बाद भंडरिया के वनकर्मी, थाना के सब इंस्पेक्टर सूर्यप्रकाश दुबे के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। इस दौरान वन कर्मियों को ग्रामीणों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। वन कर्मियों ने इसकी सूचना दक्षिणी वन प्रमंडल पदाधिकारी अभिरूप सिन्हा को दी। सूचना के आलोक में डीएफओ मौके पर पहुंच कर ग्रामीणों को समझाने में जुटे हुए हैं। लेकिन ग्रामीण मृतक के परिजन को मुआवजा देने तथा हाथियों को इस क्षेत्र से भगाने के लिए ठोस कार्रवाई की मांग पर अड़े हुए हैं।

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.