Logo
ब्रेकिंग
Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l

भारत में एंट्री न मिली तो पाक पहुंची विवादास्पद ब्रिटिश सांसद, करेंगी PoK का दौरा

डेबी ने एक इंटरव्यू मं स्वीकार किया कि वह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर  (PoK) का दौरा करना चाहती हैं ताकि वहां के मानावाधिकार स्थिति को देख सकें। डेबी ब्रिटिश संसद की सर्व दलीय संसदीय दल की चेयरमैन हैं। डेबी का पाक में विदेश मंत्री और ब्रिटिश

इस्लामाबाद/लंदनः विवादास्पद ब्रिटिश सांसद डेबी अब्राहम को भारत में एंट्री न दिए जाने के बाद वापस भेज दिया गया । डेबी अब पाकिस्तान पहुंच गई हैं। यहां वह पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से मिलेंगी। डेबी ने एक इंटरव्यू मं स्वीकार किया कि वह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर  (PoK) का दौरा करना चाहती हैं ताकि वहां के मानावाधिकार स्थिति को देख सकें।

डेबी ब्रिटिश संसद की सर्व दलीय संसदीय दल की चेयरमैन हैं। डेबी का पाक में विदेश मंत्री और ब्रिटिश संसद के सहयोगियों के साथ प्रैस कांफ्रैस करने का कार्यक्रम है। यह प्रैस कांफ्रैस पाक के विदेश मंत्रालय में होगी। डेबी ने इंटरव्यू में स्वीकार किया कि उनको इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी कि उनका भारत वीजा रद्द किया गया। जब उनसे ये पूछा गया कि क्या भारत सरकार ने उनको वीजा रद्द करने के बारे में जानकारी दी थी तो उन्होंने कहा- नहीं। उन्होंने आरोप लगाया कि अधिकारियों ने उनके साथ दुर्व्यवहार भी किया। डेबी ने कहा कि कश्मीर विरोधी बयान पर भारत ने मुझे अपने देश में एंट्री नहीं दी ।

उधर, भारत सरकार का कहना है कि डेबी अब्राहम का ई-बिजनेस वीजा इसलिए रद्द कर दिया गया, क्योंकि वह भारत विरोधी गतिविधियों में संलिप्त थीं और 14 फरवरी को उन्हें इस बारे में जानकारी दे दी गई थी। सरकार के सूत्रों ने कहा कि वीजा या इलेक्ट्रॉनिक यात्रा पत्र प्रदान करना, उसे खारिज या निरस्त करना किसी देश का संप्रभु अधिकार है। अब्राहम को पिछले साल 7 अक्टूबर को ई-बिजनेस वीजा जारी किया गया था, जो कारोबारी बैठकों में भाग लेने के लिए पांच अक्टूबर, 2020 तक वैध था। एक सूत्र ने कहा अब्राहम के पास सोमवार को यहां आईजीआई हवाईअड्डे पर पहुंचने के वक्त वैध वीजा नहीं था और उन्हें लौटने को कहा गया।