Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

टीके पर उठ रहे सवाल के बीच ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने लगवाई एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन

लंदन। ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन पर उठ रहे सवालों के बीच  ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन(Boris Johnson) ने आज एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली है। यूरोपीय और ब्रिटिश ड्रग कंट्रोलर संस्थाओं ने साफ किया है कि टीका लेने से खून का थक्का (Blood Clots) जमने का कोई साक्ष्य नहीं मिला है।इसके बावजूद लोगों में वैक्सीन को लेकर खौफ और चिंता बरकरार है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने टीका लगवाकर लोगों का भ्रम दूर करने का प्रयास किया है। उन्होंने खुद ट्वीट (Tweet) करके इसकी जानकारी दी।

पीएम जॉनसन ने ट्वीट में लिखा- मैंने अभी-अभी ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की पहली खुराक ली है। अविश्वसनीय वैज्ञानिकों, एनएचएस कर्मचारियों और वॉलंटियर्स सहित उन सभी को धन्यवाद जिन्होंने ऐसा करने में मदद की। जिस लाइफ को हम मिस करते हैं उसे अपने जीवन में वापस पाने के लिए वैक्सीन लेना ही सबसे अच्छी चीज है। चलिए टीका लगवाया जाए।

कोरोना वैक्सीन पर उठे सवालों के बाद यूरोपीय और ब्रिटिश ड्रग कंट्रोलर संस्थाओं ने सभी उपलब्ध आकंड़ों का गहन वैज्ञानिक विश्लेषण किया और इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि एस्ट्राजेनेका टीका लेने से खून का थक्का (Blood Clots) जमने का कोई साक्ष्य नहीं मिला। इसके बावजूद लोगों में वैक्सीन को लेकर खौफ और चिंता बरकरार है, लोगों की इसी चिंता को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना वैक्सीन लगवाई है. साथ ही उन्होंने लोगों से वैक्सीनेशन का हिस्सा बनने की अपील भी की है।

यह वैक्सीन ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित की गई है। इसका भारत में उत्पादन एस्ट्राजेनेका और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया मिलकर कर रहे हैं। वहीं, ब्रिटेन की स्वास्थ्य उत्पाद नियामक एजेंसी MHRA ने सलाह दी है कि यह टीका लेने के बाद जिन लोगों को लगातार चार दिन तक सिर में दर्द की शिकायत हो उन्हें डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन  टीके को लेकर व्याप्त संशय को दूर करने के लिए ही वैक्सीनेशन करवाया है।