Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

मंगल ग्रह पर ‘Perseverance’ रोवर पहली बार 21 फीट चला, मिट्टी पर दिखे निशान: देखें- VIDEO

वाशिंगटन। अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) के जरिए मंगल ग्रह पर भेजे गए पर्सवियरेंस रोवर (Perseverance rover) 4 मार्च, 2021 को पहली बार अपनी लैंडिंग वाली जगह से सफलतापूर्वक आगे बढ़ा है।  NASA की तरफ से शुक्रवार को दी गई जानकारी के मुताबिक, रोवर ने अपने अभियान का पहला चरण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। साथ ही छह पहियों वाला रोवर गुरुवार को 33 मिनट में 6.5 मीटर यानी 21.3 फीट आगे चला।

नासा की मानें तो रोवर चार मीटर आगे बढ़ा, फिर वहां से 150 डिग्री पर बाएं मुड़ा और फिर 2.5 मीटर पीछे आया आ गया। इस दौरान उसके पहियों के निशान मंगल ग्रह की सतह पर दर्ज भी हो गए हैं। नासा ने इसका वीडियो भी जारी किया है।

कैलिफोर्निया के पासाडेना में नासा के जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी में पर्सवियरेंस की गतिशीलता का परीक्षण करने वाली इंजीनियर अनीस ज़रीफ़ियन ने की माने तो “पर्सविरयरेन्स के टायर को किक और उसे बाहर घुमाने का यह हमारा पहला मौका था। ज़रीफ़ियन  ने बताया कि परीक्षण अभियान ‘अविश्वसनीय रूप’ से बहुत सफतलापूर्वक  बढ़ा और  मिशन को पूरा करने वाली टीम के लिए यह बहुत बड़ा ‘मील का पत्थर’ साबित हुआ है।

उन्होंने आगे कहा कि जल्द ही हम लंबी ड्राइव पर निकलने वाले हैं, यह तो अभी शुरुआत है। NASA की तरफ से दिए गय बयान में कहा गया है कि शुक्रवार और शनिवार को रोवर लंबी ड्राइव पर निकलेगा। उन्होंने कहा कि रोवर रोज 200 मीटर की दूरी तय कर सकता है, जो पृथ्वी पर एक दिन की तुलना में थोड़ा लंबा है। बता दें कि 18-19 फरवरी की मध्यरात्रि में रोवर मंगल ग्रह पर जीवन की तलाश करने के लिए सफलतापूर्वक उतरा था।  नासा ने दावा किया है कि मंगल ग्रह पर यह अबतक की सबसे सटीक लैंडिंग है।