Logo
ब्रेकिंग
Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l

ऑकलैंड और न्यूजीलैंड में भूकंप, मापी गई 6.3 की तीव्रता

न्यूजीलैंड। पिछले कुछ दिनों से प्रशांत महासागर (Pacific Ocean) में बसे न्यूजीलैंड (New Zealand) लगातार भूकंप (Earthquake) के झटकों का सामना कर रहा है। इस क्रम में यहां शनिवार को एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.3 मापी गई। इसमें अब तक किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है। भूकंप की वजह से किसी नुकसान की कोई खबर नहीं है। न्‍यूजीलैंड की आपातकालीन एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

बता दें कि इस हफ्ते की शुरुआत में भूकंप के कई शक्तिशाली झटके महसूस किए गए थे। यह जानकारी अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण (USGS) ने दी। बता दें कि भूकंप के बाद सुनामी को लेकर किसी तरह की चेतावनी नहीं जारी की गई है। भूकंप के इन झटकों का केंद्र गिसबोर्न सिटी के 181 किमी उत्तरपूर्व में था।

 पिछले दिनों यहां आए चार भीषण भूकंप के झटकों के लिए रिक्‍टर पैमाने पर इनकी तीव्रता 7.3, 7.4, 8.1 और 6.5 मापी गई। भूकंप के बाद सुनामी की चेतावनी जारी की गई जिससे लोग दहशत में आ गए और तटीय इलाकों में बसे लोग घर छोड़कर ऊंचाई वाले स्‍थानों पर पहुंच गए। सुनामी की इस चेतावनी को पूरे प्रशांत महासागर इलाके में जारी किया गया था जिसमें हवाई भी शामिल था। हवाई न्‍यूजीलैंड से 7500 किमी दूर है। ऑस्‍ट्रेलिया के नॉरफॉल्‍क द्वीप समूह पर समुद्र की दो फुट ऊंची लहरें देखी गईं।

अधिकारियों ने यहां के निवासियों को बताया कि उत्तरी आइलैंड के तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों को सुनामी के खतरे की आशंका के कारण सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार सुबह देश के तोकोमारु तट पर समुद्र में तेज लहरें भी देखी गईं। इससे पहले अधिकारियों ने भूकंप के तीन झटकों के बाद सुनामी की चेतावनी जारी की थी और स्‍थानीय लोगों से कहा था कि वे घर छोड़कर ऊंचाई वाली जगहों पर चले जाएं।