Logo
ब्रेकिंग
Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l

न्यूजीलैंड में काबू से बाहर कोरोना महामारी, ब्राजील के ब्रेसीलिया में 24 घंटे का लॉकडाउन

वेलिंगटन। न्यूजीलैंड में कोरोना महामारी अभी काबू में नहीं है। यहां के सबसे बड़े शहर ऑकलैंड में लॉकडाउन हटाने के बाद फिर एक सप्ताह के लिए दोबारा लॉकडाउन लगा दिया गया है। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने शनिवार को कहा कि कोरोना के नए मामले सामने आने पर यह निर्णय लिया गया है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने यह नहीं बताया कि कितने मरीज बढ़े हैं। प्रधानमंत्री ने बताया कि जनता को जरूरी सामान खरीदने की ही अनुमति होगी।

अमेरिका के सलाहकारों ने जॉनसन एंड जॉनसन की एक डोज वाली वैक्सीन को कोरोना की महामारी से लड़ने में कारगर बताया है। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन को भी उम्मीद है कि जॉनसन की वैक्सीन को तीसरी वैक्सीन के रूप में लगाने की अनुमति मिल जाएगी। यह वैक्सीन पहली ही डोज के बाद काम करना शुरू कर देती है।

– ब्राजील के ब्रेसीलिया में 24 घंटे का लॉकडाउन लगाया गया है। कुछ शहरों में रात का कफ्र्यू भी लगा है। एक दर्जन शहर ऐसे हैं, जहां पर मरीजों के लिए अस्पतालों में बिस्तरों की कमी है।

– न्यू मेक्सिको में तीन सप्ताह के बाद फिर नए मामलों में तेजी आई है। यहां पर कुल मरीजों की संख्या साढ़े अठारह लाख से ज्यादा हो गई है।

– रूस में एक दिन में 11 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं।

– कनाडा ने अपने यहां एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को सभी वयस्कों में लगाने की मंजूरी दे दी है। फाइजर और माडर्ना के बाद यह तीसरी वैक्सीन है, जिसे मंजूरी दी गई है।