Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

ऑस्ट्रेलिया के कानून में बदलाव के बाद फेसबुक बोला- जल्द समाचार पेजों से हटाएंगे बैन

कैनबरा। ऑस्ट्रेलिया सरकार और सोशल मीडिया दिग्‍गजों के बीच कंटेंट भुगतान को लेकर टकराव चल रहा है। यह सारा मामला ऑस्ट्रेलिया के नए मीडिया कानून से खड़ा हुआ। फेसबुक ने ऑस्ट्रेलिया में समाचार देखने और साझा करने पर रोक लगा दी। इस कारण कोरोनाकाल में लोगों को स्वास्थ्य विभागों और इनसे जुड़ी सूचनाएं प्राप्त करने में बेहद समस्या हुई। हालांकि, एक बार दोबारा फेसबुक अपनी सेवाएं शुरू करने जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने बताया कि कानून में बदलाव के बाद फेसबुक दोबारा से समाचार पेजों को बहाल करने जा रहा है।

बताया गया कि फेसबुक अगले कुछ दिनों में ऑस्ट्रेलियाई समाचार पेजों को फिर से बहाल करेगा, चूंकि कैनबरा सरकार ने कानून में संशोधन के लिए सहमति व्यक्त की है जिनसे सोशल मीडिया की दिग्गज कंपनियों को समाचार सामग्री के लिए भुगतान हो सकेगा।

इसपर फेसबुक ने कहा, ‘वह आने वाले दिनों में ऑस्ट्रेलियाई समाचार पेजों पर लगाया गया बैन हटा देगा।’ बता दें कि अभी प्रस्तावित मसौदा कानून का रूप ले भी नहीं पाया था और फेसबुक ने ऑस्ट्रेलिया में अपनी सेवा पर रोक लगा दी थी।

क्या है मामला और कानून

वस्तुत: ऑस्ट्रेलिया सरकार ने अप्रैल 2020 में ऑस्ट्रेलियन कंपीटीशन एंड कंज्यूमर कमीशन (एसीसीसी) नामक संस्था से एक ऐसा तंत्र विकसित करने को कहा था जिससे ऑस्ट्रेलियाई मीडिया घरानों और डिजिटल प्लेटफॉर्म के बीच एक संतुलित व्यावसायिक संबंध कायम हो सके। इसके बाद एसीसीसी के सुझाव के अनुरूप सरकार ने मीडिया कोड नाम से एक विधेयक संसद में प्रस्तुत किया है।

कानून में कहा गया कि अब ऑस्ट्रेलिया में गूगल और फेसबुक को अपने प्लेटफार्म पर साझा होने वाले समाचारों के बदले में उस समाचार प्रदाता को भुगतान करना होगा।