Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

पड़ोसी पाकिस्‍तान के कई शहरों में भी भूकंप के तगड़े झटके, 6.4 मापी गई तीव्रता, कुरान पढ़ते दिखे लोग

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान में शुक्रवार रात को भूकंप के तगड़े झटके मसहूस किए गए। समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक भूकंप की तीव्रता 6.4 मापी गई। पाकिस्‍तान के राष्‍ट्रीय भूकंपीय निगरानी केंद्र (National Seismic Monitoring Centre) के अनुसार भूकंप का केंद्र ताजिकिस्तान में 80 किलोमीटर की गहराई में था। भूकंप के झटके पाकिस्तान के इस्लामाबाद, खैबर पख्तूनख्वा और वहां के कई शहरों में महसूस किए गए। भूकंप के चलते पाकिस्‍तान में जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं मिली है।

पाकिस्तान के मौसम विभाग के मुताबिक भूकंप रात 10:02 बजे आया। समाचार एजेंसी पीटीआइ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि भूकंप के झटके पाकिस्‍तान में राजधानी इस्लामाबाद और खैबर-पख्तूनख्वा के प्रमुख शहरों, पंजाब प्रांत और गुलाम कश्मीर में महसूस किए गए। रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्‍तान में भूकंप के तगड़े झटकों के बाद लोग घरों से बाहर भागते दिखे। कुछ न्‍यूज चैनलों ने लोगों को पवित्र कुरान की आयतें पढ़ते हुए दिखाया। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्‍तान भूकंप के लिहाज से बेहद संवेदनशील है।

दरअसल पाकिस्‍तान में यूरेशियन और भारतीय टेक्टोनिक प्लेटें ओवरलैप करती हैं। समाचार एजेंसी पीटीआइ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि पाकिस्‍तान में चमन फाल्ट देश के लिए अभी भी बड़ा खतरा बना हुआ है। यदि पाकिस्‍तान में आए बड़े भूकंपों के इतिहास पर नजर दौड़ाएं तो पाते हैं कि साल 2005 में 7.6 तीव्रता आया भूकंप बेहद विनाशकारी था। इस भूकंप में 73 हजार से ज्‍यादा लोगों की मौत हुई थी।

पाकिस्‍तान के जियो न्‍यूज की रिपोर्ट के मुताबिक इस्लामाबाद, पेशावर, रावलपिंडी, मर्दन, उत्तरी वजीरिस्तान, स्वात, मुल्तान, सरगोधा, फैसलाबाद और लाहौर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। वहीं अमेरिकी जिओलॉजिकल सर्वे (United States Geological Survey, USGS) ने बताया है कि ताजिकिस्तान में आए इस भूकंप की तीव्रता 5.9 मापी गई। यही नहीं भूकंप का केंद्र ताजिकिस्तान के मुर्गब शहर से 35 किमी पश्चिम में 91.6 किमी की गहराई में था।