Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

लोकतांत्रिक महाभियोग के प्रबंधकों ने रिपब्लिकन सीनेटरों से किया आग्रह, अब ट्रंप को फिर से न करें बरी

वाशिंगटन। यूएस हाउस डेमोक्रेट्स पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के ट्रायल को चला रहे हैं। उन्होंने अब रिपब्लिकन सीनेटरों से राष्ट्रपति पद के कदाचार के लिए एक नया, भयानक मानक स्थापित नहीं करने का आग्रह करते हुए दूसरी बार उन्हें बरी नहीं करने का आग्रह किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि ट्रंप कैपिटल हिल पर हमला करने के लिए अपने समर्थकों को उकसाने वाले थे। ट्रंप के हजारों समर्थकों ने उनके एक आवाज पर 6 जनवरी को कैपिटल भवन में हंगामा खड़ा कर दिया था। उस दिन हिंसा में कई लोगों की मौत हो गई थी। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों से संबंधित ट्रंप पर अपने सर्मथकों को उकसाने का आरोप है।

कैपिटल पुलिस अधिकारी सहित पांच लोगों की अमेरिकी कैपिलट हिंसा में मौत हो गई थी। उस दिन 3 नवंबर के चुनाव परिणाम को प्रमाणित किया जा रहा था, जिसमें ट्रंप की हार हुई थी। अमेरिकी सीनेट ने बुधवार को ट्रंप, एक रिपब्लिकन के महाभियोग परीक्षण की शुरुआत की, जिसमें डेमोक्रेटिक पार्टी-नियंत्रित प्रतिनिधि सभा के महाभियोग प्रबंधकों ने पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ विद्रोह के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए एक मजबूत मामला बनाया।

डेमोक्रेटिक पार्टी के नौ महाभियोग प्रबंधकों ने 6 जनवरी के हमले से कई वीडियो वीडियो फुटेज दिखाए जिसमें यह तर्क दिया गया कि ट्रंप पर महाभियोग चलाने की आवश्यकता है। उन्होंने इस हमले को अमेरिकी इतिहास के सबसे गहरे अध्यायों में से एक बताया। हालांकि, आग्रह किया जा रहा और मामले मजबूत बनाए जा रहे हैं, लेकिन राजनीतिक पंडितों ने कहा कि ट्रंप के दूसरी बार बरी होने की पूरी संभावना है। बता दें कि ट्रंप चुनावों में जो बाइडन से हार गए थे, जिन्होंने 20 जनवरी को 46 वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली।