ब्रिटिश वैज्ञानिक का दावा- पूरी दुनिया में फैलेगा कोरोना का नया वैरियंट ‘केंट’, एक दशक तक चलेगी वायरस से लड़ाई

लंदन। ब्रिटेन के एक वैज्ञानिक ने कोरोना वायरस को लेकर बड़ा दावा किया है। ब्रिटेन के एक वैज्ञानिक ने दावा किया है कि कोरोना वायरस का नया वैरियंट ‘केंट'(Kent) पूरी दुनिया में फैलेगा और इससे कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया की लड़ाई कम से कम एक दशक तक चलेगी। ब्रिटेन के जेनेटिक सर्विलांस प्रोग्राम के प्रमुख ने कहा कि ब्रिटेन के केंट इलाके में मिले कोरोना वायरस के नए वैरिएंट के दुनिया भर में फैलने की संभावना है और साथ ही कहा कि वायरस के खिलाफ लड़ाई कम से कम एक दशक तक चलने वाली है।

कोविड-19 जीनोमिक्स यूके के कंसोर्टियम के निदेशक शेरोन पीकॉक ने  एक मीडिया रिपोर्ट में बताया कि कैंट कोरोना वायरस वैरिएंट पूरे ब्रिटेन में फैल चुका है और इसकी पूरी संभावना है कि ये पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लेने वाला है।

ब्रिटिश वैज्ञानिक ने कहा कि एक बार जब हम के शीर्ष पर पहुंच जाते हैं या यह स्वयं को विषाणु-जनित बीमारी से बाहर निकाल देता है- तब हम इसके बारे में चिंता करना बंद कर सकते हैं। लेकिन मुझे लगता है भविष्य में हम सालों तक ऐसा ही करने वाले हैं। हम अभी 10 साल तक इस वायरस के खिलाफ लड़ाई जारी रखेंगे।

कोरोना के नियम तोड़ने पर 10 लाख तक जुर्माना, 10 साल की जेल

ब्रिटेन ने उन देशों से आने वाले लोगों के लिए कोरोना संबंधी नियमों को तोड़ने पर 10,000 पाउंड (करीब 10 लाख रुपये) तक का जुर्माना और 10 साल तक जेल की सजा का प्रविधान किया है, जहां से कोरोना वायरस फैलने का खतरा सबसे ज्यादा है। इन नियमों में बाहर से आने वाले लोगों के लिए 1,750 पाउंड का वह पैकेज भी शामिल है, जिसकी बुकिंग पहले करानी होगी और जिसमें 10 दिन होटल में रहने, आने-जाने और अनिवार्य दो पीसीआर टेस्ट का चार्ज शामिल है। बाहर से आने वाले सभी लोगों को 10 दिन क्वारंटाइन में रहना होगा। इस दौरान क्वारंटाइन के दूसरे और आठवें दिन उन्हें पीसीआर टेस्ट कराना होगा।

Whats App