Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

एक साल में कांग्रेस के खाते में आए 139 करोड़ रुपये, सिब्बल बने सबसे बड़े दान दाता

कांग्रेस को 2019-20 में 139 करोड़ रुपये से ज्यादा चंदा मिला। पार्टी के सदस्यों में सबसे ज्यादा चंदा कपिल सिब्बल ने दिया। उन्होंने पार्टी कोष में तीन करोड़ रूपये का योगदान दिया। वर्ष 2019 -20 में कांग्रेस को मिले योगदान राशि की रिपोर्ट को निर्वाचन आयोग ने सार्वजनिक किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, आईटीसी और इससे जुड़ी कंपनियों ने 19 करोड़ रुपये का चंदा दिया, जबकि प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट ने 31 करोड़ रुपये का चंदा दिया।

राहुल गांधी ने किया 54,000 का दान 
कानून के तहत राजनीतिक पार्टियों के लिए जरूरी है कि वह 20,000 रुपये से अधिक चंदा देने वाले व्यक्तियों, कंपनियों इलेक्टोरल ट्रस्ट और संगठनों के बारे में जानकारी दे। एक अप्रैल 2019 से 31 मार्च 2020 के बीच पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 1,08,000 रुपये, जबकि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने 54,000 और पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 50,000 रुपये चंदा दिया। अपनी योगदान राशि रिपोर्ट में बहुजन समाज पार्टी ने कहा है कि उसे 20,000 रुपये से ज्यादा का चंदा नहीं मिला है।

बाकी सदस्यों की ये है लिस्ट 
बाकी सदस्यों की बात करें तो आनंद शर्मा ने 54 हजार, शशि थरूर ने 54 हजार, गुलाम नबी आजाद ने 54 हजार, मिलिंद देवड़ा ने 1 लाख और राजबब्बर ने 1 लाख 8 हजार रुपये का चंदा दिया है। वहीं राज बब्बर, कुमारी शैलजा और रिपुन बोरा सहित अन्य नेताओं ने पार्टी को लगभग 1 लाख रुपये का दान दिया। दरअसल सभी  राजनीतिक दलों को व्यक्तियों, कंपनियों और ट्रस्टों द्वारा उनके लिए किए गए 20,000 रुपये से अधिक के दान के विवरण की घोषणा करना अनिवार्य है।

चुनाव आयोग ने दान का विवरण किया साझा
अब तक चुनाव आयोग ने कांग्रेस, एनसीपी और बीएसपी के दान का विवरण साझा किया है। वर्ष 2019-20 के लिए भाजपा, टीएमसी, सीपीआई और सीपीएम द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट अभी तक साझा नहीं की गई हैं।  एनसीपी को 59.9 करोड़ रुपये मिले और बीएसपी ने कहा कि उसे साल 2019-20 में 20,000 रुपये से अधिक का कोई दान नहीं मिला है।