Logo
ब्रेकिंग
स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न ।

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यालय ने कहा, अमेरिकियों के लिए हमेशा विजेता रहेंगे ट्रंप

वाशिंगटन। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यालय का कहना है कि अमेरिकियों के लिए ट्रंप हमेशा और सदा विजेता रहेंगे। जो बाइडन द्वारा राष्ट्रपति पद का शपथ ग्रहण से महज कुछ घंटे पहले ट्रंप अपनी पत्नी के साथ व्हाइट हाउस को छोड़ कर अपनी जिंदगी पाम बीच स्थित आपने मार-ओ-लागो गोल्फ क्लब में बिताने चले गए हैं।

मीडिया के लिए सोमवार रात को उनके कार्यालय से जारी बयान में कहा गया, ‘अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति डोनाल्ड जे ट्रंप ने सोमवार को औपचारिक रूप से पूर्व राष्ट्रपति के कार्यालय का उद्घाटन किया।’ ट्रंप के व्हाइट हाउस से रवाना होने के बाद पहले आधिकारिक बयान में कहा गया, राष्ट्रपति ट्रंप हमेशा और सदा अमेरिकियों के लिए विजेता रहेंगे। बयान के मुताबिक यह कार्यालय अमेरिकी हितों को आगे बढ़ाने करने उद्देश्य से पूर्व राष्ट्रपति के संवाद, सार्वजनिक बयान, उपस्थिति एवं आधिकारिक गतिविधियों के लिए जिम्मेदार होगा और सार्वजनिक कार्यक्रम आदि आयोजित कर ट्रंप प्रशासन के एजेंडे को आगे बढ़ाएगा। उल्लेखनीय है कि छह जनवरी को समर्थकों को कैपिटल बिल्डिंग (अमेरिकी संसद) पर हमले के लिए भड़काने की वजह से ट्विटर सहित अन्य इंटरनेट मीडिया मंचों पर ट्रंप को प्रतिबंधित कर दिया गया है।

सीनेट में शुरू हुई महाभियोग पर सुनवाई

पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का मामला सोमवार देर शाम सीनेट पहुंच गया। इस दौरान डेमोक्रेटिक पार्टी के नेताओं ने आरोप लगाया कि ट्रंप की शह पर ही संसद पर हमला किया गया। हालांकि उनकी पार्टी के नेताओं ने इन आरोपों का बचाव किया। सुनवाई के दौरान रिपब्लिकन सीनेटर जिस तरह ट्रंप का बचाव कर रहे थे, उससे साफ पता चल रहा था कि अभी भी पूर्व राष्ट्रपति का पार्टी पर नियंत्रण है।

गौरतलब है कि ट्रंप पर अमेरिकी संसद परिसर यूएस कैपिटल में हमला करने के लिए उकसाने का आरोप है जिसे सदन में 197 के मुकाबले 232 वोटों से पारित कर दिया गया। 10 रिपब्लिकन सांसदों ने महाभियोग प्रस्ताव का समर्थन किया। इससे पहले दिसंबर 2019 में भी उन पर महाभियोग लाया गया था।