Logo
ब्रेकिंग
रांची रामगढ़ फोरलेन पर चेटर में सड़क दुर्घटना, दो घायल रामगढ़ के दो घरों में डकैती, परिवार को बंधक बनाकर लाखो की लूटपाट, CCTV में अपराधी हुए कैद । रजरप्पा मंदिर के पुजारी रंजीत पंडा का हृदय गति रुकने से नि-धन, शोक की लहर हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण

ट्रंप समर्थकों के हिंसा भड़काने वाले पोस्ट के चलते गूगल ने ‘पार्लर’ एप को प्लेस्टोर से हटाया

वाशिंगटन। इंटरनेट दिग्गज गूगल ने माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म पार्लर को अपने प्लेस्टोर से हटा दिया है। हाल में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थक बड़े पैमाने पर इस एप से जुड़े हैं। गूगल ने हिंसा भड़काने वाले विभिन्न पोस्ट के चलते यह कदम उठाया है। पार्लर एप से ऐसे कंटेंट पर ज्यादा सख्ती के लिए कहा गया है। एपल ने भी कहा है कि अगर पार्लर ने सख्ती नहीं की तो उसे एप स्टोर से हटा दिया जाएगा।

गूगल ने कहा- एप्स में हिंसा भड़काने वाले कंटेंट पर रोक की व्यवस्था

गूगल ने कहा, ‘गूगल प्ले पर यूजर्स की सुरक्षा को देखते हुए हमेशा से हमारी नीति रही है कि एप्स में हिंसा भड़काने वाले कंटेंट पर रोक की व्यवस्था हो। हमने हाल के महीनों में पार्लर को इस बारे में चेताया भी था।’ एपल ने भी कहा कि पार्लर के कंटेंट का लेकर कई शिकायतें मिली हैं। ऐसे आरोप लग रहे हैं कि छह जनवरी को वाशिंगटन में जो हुआ, उसकी योजना इस एप पर बनी थी। इस पर पलटवार करते हुए पार्लर के सीईओ जॉन मेज ने कहा, ‘अगर पार्लर पर हर यूजर कंटेंट के लिए पार्लर जिम्मेदार है, तो इस हिसाब से तो आइफोन से होने वाले हर अपराध के लिए एपल को जिम्मेदार होना चाहिए।’

कैपिटल हिल परिसर में हिंसा, ट्विटर ने ट्रंप का अकाउंट स्‍थायी रूप से सस्‍पेंड

अमेरिकी संसद कैपिटल हिल परिसर में हुई हिंसा के बाद माइक्रो ब्‍लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर ने राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप का निजी अकाउंट पहले 12 घंटे फिर 15 दिन और अब स्‍थायी रूप से सस्‍पेंड कर दिया है। ट्विटर को अंदेशा है कि ट्रंप फिर कोई ऐसा ट्वीट कर सकते हैं, जिससे कैपिटल हिल में हुई हिंसा जैसे हालात बन सकते हैं। निजी अकाउंट सस्‍पेंड होने के बाद डोनाल्‍ड ट्रंप ने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट @POTUS से एक ट्वीट किया। लेकिन इस ट्वीट को भी ट्विटर ने कुछ ही मिनटों में हटा दिया है। बताया जा रहा है कि आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से किए गए ट्वीट में ट्रंप ने माइक्रो ब्‍लॉगिंग वेबसाइट की आलोचना की थी। डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा है कि वह चुप रहने वाले नहीं हैं।

ट्रंप के फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट्स पर अनिश्चित काल तक के लिए बैन

बता दें कि ट्विटर ही नहीं, अमेरिका में कैपिटल हिल परिसर में हुई हिंसा के बाद डोनाल्‍ड ट्रंप के फेसबुक और इंस्टाग्राम अकाउंट्स पर भी अनिश्चित काल तक के लिए बैन लगा दिया गया है। हालांकि, अब ट्विटर ने ट्रंप के अकाउंट को हिंसा के और भड़काने के जोखिम की आशंका के चलते स्थायी रूप से सस्पेंड कर दिया है।