Logo
ब्रेकिंग
हाथी का दांत को वन विभाग के अधिकारी ने किया जप्त। नवरात्रि के उपलक्ष में भव्य डांडिया रास का 24 सितंबर को होगा आयोजन । हजारीबाग में 30 फीट गहरी नदी में पलटी बस 07 लोगों की हुई मौत, गैस कटर से काटकर शव को निकाला गया। दो नाबालिग लड़की के दुष्कर्म मामले में फरार दोनो आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शांतनु मिश्रा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे नवनियुक्त जिला परिषद अध्यक्षों ने मुलाक... प्रखंड सह अंचल कार्यालय, रामगढ़ का उपायुक्त ने किया निरीक्षण पल्स पोलियो अभियान का रामगढ़ उपायुक्त ने किया शुभारंभ MRP से ज्यादा में शराब बेचने वालों की खैर नहीं, उपायुक्त ने दिया जांच अभियान चलाने का निर्देश । हेमंत कैबिनेट का बड़ा फैसला- 1932 के खतियानधारी ही झारखंडी,OBC को 27 प्रतिशत आरक्षण, जानें अन्य फैसल...

वैक्सीन की खेप के लिए ब्राजील के राष्ट्रपति ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, 20 लाख डोज देने का किया आग्रह

रियो डी जेनेरियो। ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो ने एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन की खेप के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। वैक्सीन की उपलब्धता में विलंब से ब्राजील में इस समय निराशा का माहौल है।

कोरोना से सबसे बुरी तरह प्रभावित देशों के क्रम में दूसरे स्थान पर रहे ब्राजील में वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर सरकार पर जनता का काफी दबाव है। इसी कारण राष्ट्रपति के प्रेस आफिस से शुक्रवार को बोलसोनारो द्वारा मोदी को लिखे गए पत्र की कापी जारी की गई। इस पत्र में भारत से जल्द से जल्द वैक्सीन की 20 लाख डोज उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया है।

भारत से एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की बल्क खेप का इंतजार कर रहा है ब्राजील

राष्ट्रपति के आलोचकों का कहना है कि वैक्सीन की अनुपलब्धता के कारण अन्य क्षेत्रीय देशों की तुलना में ब्राजील में टीकाकरण काफी पिछड़ गया है। उल्लेखनीय है ब्राजील के संघीय संस्थान फायोक्रूज मेडिकल सेंटर ने शुक्रवार को बताया था कि वह भारत से एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की बल्क खेप का इंतजार कर रहा है। उसकी योजना इस खेप से माह के अंत तक शीशीबंद खुराकें तैयार कर सरकार को सौंपने की थी। लेकिन भारत से सप्लाई न पहुंचने से उसका काम अटका पड़ा है।

देश में 16 जनवरी से शुरू होगा कोरोना का टीकाकरण

बता दें कि भारत में 16 जनवरी से कोरोना का टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद टीकाकरण शुरू किए जाने को लेकर पुष्टि की है। शुरू में कोरोना का टीकाकरण स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्करों को दिया जाएगा, जो कि सरकार की तरफ से पूरी तरह से मुफ्त रहेगा।

गौरतलब है कि कोरोना के टीकाकरण को लेकर सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है। कुछ दिन पहले देश के सभी राज्यों और जिला स्तर पर कोरोना के टीकाकरण का ड्राई रन किया जा चुका है। इसी के चलते देश में अब 16 जनवरी से कोरोना का टीकारण शुरू हो जाएगा।