व्हाइट-हाउस के दो शीर्ष अधिकारियों ने कैपिटल हिंसा के बाद दिया इस्तीफा, कई और भी छोड़ सकते हैं पद

वाशिंगटन। संयुक्त राज्य अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप के दो शीर्ष सहयोगियों ने कैपिटल हिल पर हिंसा के मद्देनजर बुधवार को इस्तीफा दे दिया है। सूत्रों के अनुसार व्हाइट हाउस के कई और शीर्ष अधिकारी भी इस्तीफा देने पर विचार कर रहे हैं। जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ’ब्रायन और उनके डिप्टी मैथ्यू पोटिंगर शामिल हैं। व्हाइट हाउस ने फिलहाल इसपर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। कैपिटल हिल में हुई हिंसा में कई लोग घोयल हुए हैं। इस दौरान एक महिला की मौत भी हुई है।

जो बाइडन के चयन पर अंतिम मुहर लगाने के लिए आयोजित कांग्रेस के संयुक्त सत्र में ट्रंप समर्थकों के उग्र प्रदर्शन के कारण व्यवधान आ गया। हिंसक प्रदर्शन के मद्देनजर मेलानिया ट्रंप की चीफ ऑफ स्टाफ स्टेफनी ग्रिशम ने पद से इस्तीफा दे दिया है। ग्रिशम ने एक बयान में कहा, ‘व्हाइट हाउस में देश की सेवा करना सम्मान की बात है। मुझे हर जगह बच्चों की मदद करने के लिए श्रीमती ट्रंप के मिशन का हिस्सा होने पर बहुत गर्व है।’

पहली महिला के लिए चीफ ऑफ स्टाफ बनने से पहले ग्रिशम ने व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव के रूप में एक साल तक काम किया। हालांकि उन्होने यह नहीं बताया कि उनका इस्तीफा देश की राजधानी में हुई हिंसा की प्रतिक्रिया के रूप में था, लेकिन उनके फैसले से परिचित एक सूत्र ने कहा कि हिंसा को लेकर ही उनहोंने स्तीफा दिया है।

रायटर को सूत्रों ने बताया कि डिप्टी व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा मैथ्यूज की तरह व्हाइट हाउस की सामाजिक सचिव रिकी निकेता ने भी इस्तीफा दे दिया है। इसके अलावा राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ओ,ब्रायन भी इस्तीफा देने पर विचार कर रहे है। एक सूत्र ने कहा कि व्हाइट हाउस के अंदर भी इस बात की चर्चा थी कि डिप्टी चीफ ऑफ स्टाफ क्रिस लिडेल भी इस्तीफा दे सकते हैं।

Whats App