Logo
ब्रेकिंग
Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी पुलिस अधीक्षक के कार्रवाई से पुलिस महकमा में हड़कंप, चार पुलिस कर्मी Suspend रामगढ़ छावनी फुटबॉल मैदान में लगा हस्तशिल्प मेला अब सिर्फ 06फ़रवरी तक l

यूरोपीय संघ ने पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस पर लगाया 3 महीने तक प्रतिबंध, हो रहा भारी नुकसान

इस्लामाबाद। यूरोपीय संघ विमानन सुरक्षा एजेंसी (ईएएसए) ने पाकिस्तानी अधिकारियों की उम्मीदों पर पानी फेरते हुए पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) पर लगे प्रतिबंध को तीन महीने के लिए बढ़ा दिया है। शनिवार को ईएएसए ने जानकारी दी कि नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (CAA) की सुरक्षा ऑडिट के बाद पीआईए पर गा प्रतिबंध को हटा लिया जाएगा। ईएएसए ने जुलाई में सुरक्षा चिंताओं के कारण यूरोपीय संघ के सदस्य राज्यों में पीआई की उड़ानों पर रोल लगा दी थी।

शुक्रवार को पाकिस्तान के उड्डयन मंत्री गुलाम सरवर खान ने संवाददाताओं से कहा कि वाणिज्यिक पायलटों को लाइसेंस जारी करने की प्रक्रिया के बारे में ईएएसए की ज्यादातर चिंताओं को निपटा दिया गया है और जल्द ही यूरोपीय देशों में पीआईए उड़ानों पर लगाए गए प्रतिबंध को हटा दिया जाएगा।

हालांकि, पीआईए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने डॉन से कहा कि एयरलाइन द्वारा किए गए अनुरोध के जवाब में पीआईए को एक निराशाजनक जवाब मिला है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय वाहक ने यूरोपीय एजेंसी से अनुरोध किया था कि उसकी शर्तों को पूरा करने तक उसे यूरोपीय स्थलों से उड़ानों के संचालन के लिए अपनी अस्थायी अनुमति दी जाए।

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, ईएएसए प्रतिबंध से पीआईए को भारी वित्तीय नुकसान हो रहा है और यह विदेशी एयरलाइनों को अपने परिचालन का विस्तार करने का अवसर भी दे रहा है। इस महीने की शुरुआत में ब्रिटिश एयरलाइन वर्जिन अटलांटिक ने इस्लामाबाद और लाहौर के लिए अपनी सीधी उड़ानों को शुरू किया था, जबकि ब्रिटिश एयरवेज ने इस्लामाबाद से लाहौर तक अपने परिचालन का विस्तार किया है।