Logo
ब्रेकिंग
मॉबली*चिंग के खिलाफ भाकपा-माले ने निकाला विरोध मार्च,किया प्रदर्शन छावनी को किसान सब्जी विक्रेताओं को अस्थाई शिफ्ट करवाना पड़ा भारी,हूआ विरोध व गाली- गलौज सूक्ष्म से मध्यम उद्योगों का विकास हीं देश के विकास का उन्नत मार्ग है बाल गोपाल के नए प्रतिष्ठान का रामगढ़ सुभाषचौक गुरुद्वारा के सामने हुआ शुभारंभ I पोड़ा गेट पर गो*लीबारी में दो गिर*फ्तार, पि*स्टल बरामद Ajsu ने सब्जी विक्रेताओं से ठेकेदार द्वारा मासूल वसूले जाने का किया विरोध l सेनेटरी एवं मोटर आइटम्स के शोरूम दीपक एजेंसी का हूआ शुभारंभ घर का खिड़की तोड़ लाखों रुपए के जेवरात कि चोरी l Ajsu ने किया चोरों के गिरफ्तारी की मांग I 21 जुलाई को रामगढ़ में होगा वैश्य समाज के नवनिर्वाचित सांसद और जनप्रतिनिधियों का अभिनंदन l उपायुक्त ने कि नगर एवं छावनी परिषद द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा।

ब्रिटेन से लौटी कोविड-19 संक्रमित महिला दिल्‍ली से हुई फरार, आंध्र प्रदेश में बेटे के साथ की गई आइसोलेट

अमरावती। एक एंग्‍लो-इंडियन महिला मैरी विनफ्रेड एन (Mary Winfred Ann)21 दिसंबर को ब्रिटेन से दिल्‍ली वापस आई और कोविड-19 पॉजिटिव पाई गई। इसके बाद उसे आइसोलेशन सेंटर में रखा गया लेकिन प्राधिकरण को झांसा देकर वह ट्रेन के जरिए आंध्र प्रदेश पहुंच गई। अब उसे दोबारा खोज निकाला गया है और राजमुंदरी में आइसोलेशन में रख दिया गया।

महिला राजामहेंद्रवरम में थी जहां के एक अस्‍पताल में बेटे के साथ भर्ती थी। उनके स्‍वैब को जांच के लिए पुणे के नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में भेजा गया ताकि यह पता चल सके कि वह कोविड के नए स्‍ट्रेन से संक्रमित है या नहीं। बता दें कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए स्‍ट्रेन की मौजूदगी से हड़कंप मच गया है। वहां से भारत आने वाली उड़ानों पर रोक लग गई है लेकिन अब तक कई लोग जो वहां से आए है संक्रमित पाए गए हैं।ब्रिटेन में इसे लेकर हाई अलर्ट है।

महिला के क्‍वारंटाइन सेंटर से फरार होने की सूचना मिलते ही स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों ने अलर्ट का ऐलान कर दिया और पूर्व गोदावरीअधिकारियों को इस बारे में सूचित कर बताया कि महिला राजामुद्री के रामकृष्‍ण नगर की रहने वाली है।

इसके बाद रेलवे पुलिस ने बुधवार को पता लगाया कि महिला ने ट्रेन के फर्स्‍ट क्‍लास कोच में राजामुंदरी तक सफर किया। दिल्‍ली के क्‍वारंटाइन सेंटर से फरार महिला को रेलवे पुलिस और स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों ने पकड़ने में सफलता पाई। इसके बाद उसे स्‍थानीय अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। अधिकारियों के अनुसार, महिला ने बताया कि केवल होम क्‍वारंटाइन का सुझाव दिया गया था इसलिए वह स्‍वयं नई दिल्‍ली से निकल गई।  महिला को लेने आए बेटे को भी अस्‍पताल में भर्ती किया गया है। ब्रिटेन में महिला शिक्षिका के तौर पर कार्यरत है।

 फिलहाल मां-बेटे के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। पूर्व गोदावरी जिले के हेल्‍थ सर्विस के कोऑर्डिनेटर टी रमेश किशोर (T Ramesh Kishore) ने कहा कि महिला में संक्रमण का कोई लक्षण नहीं था लेकिन उन्‍होंने नए सैंपल लिए ताकि यह पता चल सके कि कोरोना वायरस का नया स्‍ट्रेन तो इनके शरीर में मौजूद नहीं। हम एनआइवी को सैंपल भेज रहे हैं और तब तक मां बेटे को आइसोलेशन में रखा जाएगा।