जम्मू-कश्मीर डीडीसी चुनाव नतीजों से भाजपा गदगद, शाह ने जताया आवाम का आभार, जानें किसने क्‍या कहा

yamaha

नई दिल्‍ली। जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद के पहले चुनाव में भाजपा ने 74 सीटें अपने नाम की हैं। वहीं फारुक अब्दुल्ला नीत सात दलों के गुपकर गठबंधन ने 110 सीटों पर जीत हासिल की है। बड़ी संख्‍या में सीटें जीतने पर भाजपा के खेमे में उत्‍साह है। केंद्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा के दिग्‍गज नेता अमित शाह ने इसके लिए जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों का आभार जताया है। उन्‍होंने इस चुनावी प्रक्रिया में अहम योगदान के लिए सुरक्षा बलों की सराहना भी की है। जानें इन चुनावों पर किसने क्‍या कहा…

भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा कि डीडीसी चुनावों में शानदार मतदान के लिए जम्मू-कश्मीर के लोगों को बधाई। मैं इन बहु-चरणबद्ध चुनावों के सफलतापूर्वक संचालन के लिए हमारे सुरक्षा बलों और स्थानीय प्रशासन की कोशिशों की सराहना करता हूं। इससे जम्मू-कश्मीर के लोगों का लोकतंत्र में यकीन बढ़ेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी जम्मू-कश्मीर क्षेत्र की समृद्धि और विकास के लिए अथक प्रयास करते रहेंगे

शाह ने कहा कि इन चुनावों में सामूहिक भागीदारी लोकतंत्र में जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों के यकीन की गवाही दे रही है। मैं जिला विकास परिषद चुनावों में भाजपा को वोट देने के लिए जम्मू-कश्मीर के भाइयों बहनों को तहेदिल से धन्यवाद देता हूं। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार जम्मू-कश्मीर में जमीनी लोकतंत्र को बहाल करने के लिए भरपूर प्रयास कर रही है। जम्मू-कश्मीर के इतिहास में पहली बार हाल ही में आयोजित डीडीसी चुनाव उसी की गवाही दे रहे हैं।

वहीं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि जिसे बार-बार गुपकार एलायंस की जीत बताई जा रही है… असल में वह एलायंस इसलिए बना क्योंकि वे (विपक्षी) जानते थे कि वो भाजपा से अकेले नहीं लड़ सकते थे। भाजपा को 4,87,364 वोट मिले हैं, NC को 2,82,514 जबकि PDP को 57,789 और कांग्रेस 1,39,382 मत मिले हैं। इन तीनों का वोट मिला दीजिए तो भी भाजपा का वोट इनसे अधिक है।

वरिष्‍ठ भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि DDC चुनाव में लोकतंत्र की जीत हुई है। यह जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों की आशा की जीत है। कश्मीर के हित के लिए पीएम मोदी जी ने जो सोचा यह उसकी जीत है। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, इस चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आई है। भाजपा को 75 सीटें, नेशनल कांफ्रेंस को 67 सीटें, पीडीपी को 27 और कांग्रेस को 26 सीट मिली हैं।

वहीं नेशनल कॉन्‍फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा कि इस चुनाव में भाजपा की हालत खराब हुई है इसलिए मुझे नहीं लगता वो अब जल्दीबाजी में विधानसभा का चुनाव कराएंगे। बेशक कुछ जगहों पर जहां हम जीतने की उम्मीद कर रहे थे लेकिन हम वहां सीट नहीं निकाल पाए। आप जितनी भी साजिशें रच लें कभी भी हमें मिटाने में कामयाब नहीं होंगे। हमें मिटाने की ताकत सिर्फ अल्लाह के हाथ में या फिर यहां के आवाम के हाथ में है। करिए अपना प्रोपेगेंडा… बताइए दुनिया को अपना झूठ, कभी न कभी तो आपका झूठ… झूठ ही साबित होगा।

पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने कहा कि मुझे कई बार कहा गया कि जम्मू-कश्मीर की फ़िक्र करना छोड़ दीजिए। मैं इस पर सहमत नहीं हुई तो इन्होंने (सरकार) CBI, NIA को अपना हथियार बना लिया। पिछले दो साल से मेरे ऊपर छानबीन चल रही है, कुछ नहीं मिला तो हमारे रिश्तेदार, दोस्त, सहयोगियों के घरों में छापे डालने शुरू कर दिए। मेरी बहन की संपत्ति को कुरेदना शुरू कर दिया गया है। मेरी मां के अकाउंट को कुरेदना शुरू कर दिया है। मैं सभी भाजपा नेताओं से कहना चाहती हूं कि यदि आपको मुझसे लड़ना है तो राजनीतिक लड़ाई लड़ो। CBI, NIA, ED की लड़ाई मत लड़ो…

raja moter
Leave A Reply

Your email address will not be published.