Logo
ब्रेकिंग
आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l Royal इंटरप्राइजेज के सौजन्य से Addo ब्रांड के टेक्निकल मास्टर क्लास का रामगढ़ में आयोजन | रामगढ़ में हजारीबाग डीआईजी की पुलिस टीम पर कोयला तस्करों का हमला l ACB के हत्थे चढ़ा SI मनीष कुमार, केस डायरी मैनेज करने के नाम पर मांगा 15 हजार माता वैष्णों देवी मंदिर के 33वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 14 को रामगढ़। झारखंड के इन जिलों में 12 से होगी झमाझम बारिश, जानें मौसम का मिजाज रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ श्री गुरु नानक पब्लिक स्कूल का वार्षिकोत्सव सम्पन्न । रामगढ़ एसपी ने पांच पुलिस निरीक्षकों को किया पदस्थापित रामगढ़ में एक डीलर और 11 अवैध राशन कार्डधारियों को नोटिस जारी

इंदौर कलेक्टर बोले- किसी काम के नहीं खाद्य विभाग के अधिकारी, सरकार फालतू में खर्च कर रही पैसा

इंदौर: इंदौर में मिलावटखोरी को लेकर कलेक्टर मनीष सिंह सख्त नजर आ रहे हैं। मिलावट खोरी के बढ़ते मामलों को लेकर उन्होंने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि फूड एन्ड ड्रग विभाग के इंस्पेक्टरों की कोई उपयोगिता नहीं दिखाई दे रही है। उन्हें बता दिया है कि सरकार इतना पैसा खर्च रही आप पर। अगर उपयोगिता नहीं दिखी तो मैं डीई करके सभी को टर्मिनेट करूंगा।

दरअसल कलेक्टर मनीष सिंह CMHO ऑफिस पहुंचे। यहां उन्होंने विभाग के अधिकारियों और डॉक्टरों से कई मामलों में चर्चा की। कलेक्टर मनीष सिंह ने मीडिया से चर्चा कर दौरान कहा कि इंदौर की पहचान मिलावट मुक्त शहर के रूप में बननी चाहिए। इसके लिए नमकीन, दुग्ध उत्पाद जैसे खाद्य पदार्थों के प्रोसेसिंग यूनिट की एसोसिएशन को सशक्त किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उन्हें 22 दिसम्बर से मिलावट मुक्त उत्पाद की ट्रेनिंग दी जाएगी। इन्हें इस तरह सशक्त किया जाएगा, कि यह अपने उत्पाद की यूनिटों पर नजर रखेंगे और स्वयं भी मिलावट करने वालों पर अंकुश लगाएंगे। कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि जिले में फूड एंड ड्रग विभाग के इंस्पेक्टरों की उपयोगिता अभी तक दिखाई नहीं दे रही है। उन्हें दो टूक शब्दों में कह दिया गया है कि सरकार आप पर पैसा खर्च करती है अगर उनके काम में सुधार नहीं आया तो मैं डीई करके उन्हें टर्मिनेट करूंगा।