Logo
ब्रेकिंग
माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव भंडारा के साथ संपन्न युवक ने प्रेमिका के लवर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देकर कुएं में फेंकी लाश । 1932 खतियान राज्यपाल ने किया वापस, झामुमो में आक्रोश, किया विरोध, फूंका प्रधानमंत्री का पुतला । रामगढ़ विधानसभा उपनिर्वाचन 2023 के मद्देनजर उपायुक्त ने की प्रेस वार्ता कराटे बेल्ट ग्रेडेशन टेस्ट सह प्रशिक्षण शिविर में 150 कराटेकार शामिल, उत्कृष्ट प्रदर्शनकारी को मिला ... श्रीराम सेना के विशाल हिंदू सम्मेलन में राष्ट्रवादी प्रखर प्रवक्ता पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ और अंतरराष्... भव्य कलश यात्रा के साथ माता वैष्णों देवी मंदिर का 32वां वार्षिकोत्सव शुरू रामगढ़ में मनाया गया 74 वां गणतंत्र दिवस, विभिन्न कार्यालयों द्वारा निकाली गई झांकी माँ की ममता से दूर जेल में बंद पूर्व विधायक मामता देवी का दूधमुहा बच्चा बीमारी की गिरफ्त में । माता वैष्णों देवी मंदिर के 32वें वार्षिकोत्सव पर भव्य कलश यात्रा 26 को

Saraykela कुपोषण के प्रति जागरूकता को लेकर पोषण रथ रवाना

उपायुक्त द्वारा हरी झंडी दिखा कर रथ को किया गया रवाना

सरायकेला: जिला समाज कल्याण विभाग की ओर से 1 से 30 सितंबर तक मनाए जा रहे पोषण माह की सफलता को लेकर आज दिनांक 15 सितम्बर 2020 (राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के शुभ अवसर पर) को समाहरणालय परिसर से जिला उपायुक्त इक़बाल आलम अंसारी एवं उप विकास आयुक्त श्री प्रवीण कुमार गागराई, ITDA निर्देशक श्री अरुण वालटर सांगा, जिला कोषागार पदाधिकारी श्री प्रमोद कुमार झा एवं अनुमंडल पदाधिकारी सरायकेला श्री राम कृष्ण कुमार द्वारा पोषण जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया गया।

कार्यक्रम के दौरान उपस्थित सभी पदाधिकारी एवं कर्मचारियों को उपायुक्त महोदय ने पोषण शपथ ग्रहण कराया जिसके तहत किशोरों एवं महिलाओ को कुपोषण मुक्त स्वस्थ और मजबूत करने का शपथ लिया गया l जागरूकता रथ को रवाना करते हुए उपायुक्त इक़बाल आलम अंसारी ने कहा- जागरूकता ही रोगों की पहली दवा है। उन्होंने कहा कि जिले को कुपोषण मुक्त बनाने को लेकर सामुहिक प्रयास करने की जरूरत है।

सही पोषण से ही देश विकास की ओर अग्रसर हो सकता है। शरीर स्वस्थ होने पर ही जीवन खुशहाल बनेगा। उन्होंने पोषण माह के तहत पौष्टिक आहार के प्रति लोगों में जागरूकता लाने की बात कही।

इस दौरान जिला समाज कल्याण पदाधिकारी श्रीमती संध्या रानी ने कहा कि जिले को कुपोषण मुक्त बनाना है,लेकिन यह तभी संभव है जब अभियान से जुड़े प्रत्येक कर्मी इसे जन आंदोलन बनाने में सफल होंगे। उन्होंने बताया कि 1 से 30 सितंबर तक चलने वाले पोषण माह में जिले के प्रत्येक कुपोषित बच्चों की पहचान कर उन्हें कुपोषण से मुक्ति दिलाना है। इसके लिए जिले मे दो रथ रवाना किया गया है जो प्रतेक दिन अलग अलग प्रखंड मे जा कर लोगो को कुपोषण के प्रति (पौष्टिक आहार के प्रति) जागरूक करेगी l

उन्होंने बताया कि पोषण माह मनाने को लेकर महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग के द्वारा जो भी गाइड लाइन मिले है उसके अनुसार योजना बनायी गई है एवं उसी के आधार पर अभियान चलाया जाएगा।
कार्यक्रम मे उपस्थिति
जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी श्री सुनील सिंह सभी CDPO समेत अन्य कर्मी मौजूद थे।

nanhe kadam hide