जनरल चार्ल्स ब्राउन बने अमेरिकी वायुसेना के चीफ ऑफ स्टाफ, सैन्य सेवाओं का नेतृत्व करने वाले पहले अश्वेत

वाशिंगटन अमेरिकी सीनेट ने मंगलवार को सर्वसम्मति से जनरल चार्ल्स ब्राउन जूनियर को अमेरिकी वायुसेना के चीफ ऑफ स्टाफ के तौर पर चुना। ब्राउन का चुनाव काफी ऐतिहासिक है। इसके साथ ही वह देश की सैन्य सेवाओं में से एक का नेतृत्व करने वाले पहले अश्वेत अधिकारी बन गए हैं। ब्राउन 98-0 के वोट से चुने गए। उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने इसे ऐतिहासिक पल बताया। पेंस ने ही सीनेट में मतदान की अध्यक्षता की।

बता दें कि ब्राउन का चुनाव ऐसे समय में हुआ है, जब पूरे अमेरिक में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत के बाद लोगों में गुस्से का माहौल है। पूरे देश में घटना को लेकर हिंसक प्रदर्शन हुआ। ट्रंप प्रशासन इस घटना को लेकर जन आक्रोश का सामना कर रहा है। मंगलवार को ही फ्लॉयड का अंतिम संस्कार हुआ।

2,900 घंटे से अधिक समय तक विमान उड़ाने का अनुभव

ब्राउन इससे पहले अमेरिकी प्रशांत वायुसेना के कमांडर थे। वह एक फाइटर पायलट हैं।  उनके पास 2,900 घंटे से अधिक समय तक विमान उड़ाने का अनुभव है। उन्होंने शुक्रवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया। इस वीडियो में उन्होंने अपने जीवनकाल में नस्लीय भेदभाव से निपटने  और मुख्य रूप से श्वेत लोगों के वर्चस्व वाले समाज में जगह बनाने के संघर्ष के बारे में बताया।

मैं अपने वायु सेना के कैरियर के बारे में सोच रहा हूं : ब्राउन

ब्राउन ने कच्चे स्वर में कहा, ‘ मैं अपने वायु सेना के कैरियर के बारे में सोच रहा हूं, जहां मैं अपने स्क्वाड्रन में एकमात्र अफ्रीकी अमेरिकी था या वरिष्ठ अधिकारी के तौर पर कमरे में एकमात्र अफ्रीकी अमेरिकी था। मैं अपने साथियों जैसा फ्लाइट सूट पहनने के बारे में सोच रहा हूं और एक अन्य सैन्य सदस्य पूछता है क्या आप एक पायलट हैं?’

ब्राउन 1984 में वायु सेना में शामिल हुए

ब्राउन 1984 में वायु सेना में शामिल हुए थे। उन्होंने स्क्वाड्रन और विंग स्तर पर कई तरह के पदों पर काम किया है और एक लड़ाकू स्क्वाड्रन और दो फाइटर विंग की कमान संभाली है। वह अमेरिकी वायु सेना हथियार स्कूल में एफ -16 के प्रशिक्षक भी थे।

Whats App