क्रिकेट बोर्ड की कमाई बढ़ाने के लिए ICC ने लिया बड़ा फैसला, बदल जाएगी टेस्ट मैचों की जर्सी

yamaha

नई दिल्ली। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से एक बड़ा फैसला लिया है। कोविड 19 के कारण आइसीसी के सदस्य देशों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ने कहा है कि अब टीमें टेस्ट क्रिकेट में भी फ्रंट ऑफ शर्ट स्पॉन्सर का प्रयोग कर सकती हैं। इसके मायने ये हैं कि टेस्ट क्रिकेट की सफेद जर्सी पर भी सामने बड़ा लोगो लगाया जा सकता है।

अगले 12 महीने तक टीमें टेस्ट क्रिकेट की शर्ट और जर्सी पर ज्यादा से ज्यादा 32 वर्ग इंच का लोगो सीने पर प्रयोग कर आमदनी को बढ़ा सकती हैं। अभी तक सिर्फ वनडे और टी20 की टीशर्ट पर ही आइसीसी ने इतना बड़ा लोगो लगाने को अनुमति दे रखी थी। हालांकि, तीन लोगो अभी भी टेस्ट क्रिकेट में पहनी जाने वाली जर्सी पर लगाए जा सकते हैं, लेकिन ये लोगो काफी छोटे होते हैं, जो दोनों बाजुओं और एक सीने के ऊपर लगाया जाता है।

आइसीसी का ये फैसला क्रिकेट बोर्ड की कमाई को बढ़ाने का जरिया है, क्योंकि कोविड 19 महामारी के कारण क्रिकेट प्लेइंग नेशंस को काफी नुकसान झेलना पड़ा है। यूके के अखबार डेली मेल के मुताबिक, इंग्लैंड की टीम इस नई स्पॉन्सरशिप की कमाई को देश के कोविड 19 हेल्थ सर्विस फंड में डोनेट कर सकती है। कोरोना वायरस के बाद पहली सीरीज में इंग्लैंड की टीम को भाग लेना है, जो वेस्टइंडीज के खिलाफ होनी है।

कोविड 19 के बाद पहली सीरीज इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच इंग्लिश सरजमीं पर होनी है, जिसकी शुरुआत 8 जुलाई से होनी है। इसी सीरीज में सफेद टी शर्ट पर सामने एक बड़ा लोगो लगाने की अनुमति होगी। आइसीसी की चीफ एग्जक्यूटिव कमेटी यानी सीईसी ने मंगलवार 9 जून को स्पॉन्सरशिप के नियमों में ढील देने का ऐलान किया है। इस मीटिंग में महामारी को लेकर कई और नियम भी बनाए गए हैं।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.