पीएम इमरान बोले, पाकिस्‍तान में जुलाई-अगस्त के दौरान अपने चरम पर होगी कोरोना महामारी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पहली बार कोरोना संक्रमण को लेकर बड़ा बयान दिया है। इमरान ने कहा है कि पाकिस्‍तान में जुलाई-अगस्त में कोरोना महामारी अपने चरम पर होगी। पाकिस्‍तान में कोरोना के मामले बढ़कर 1,05,637 हो गए हैं जबकि 2,108 लोग इस बीमारी से जान गवां चुके हैं। पाकिस्‍तान में पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी और मौजूदा रेलमंत्री शेख रशीद अहमद भी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद अब्बासी घर पर आइसोलेशन में चले गए हैं।

इमरान खान ने सोमवार को राष्‍ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि हमें पहले से पता है कि कोरोना फैलेगा। हमारे विशेषज्ञों को इस बीमारी के फैलने का जो रूख नजर आया है उसके अनुसार यह चरम पर पहुंचेगा और बाद में ग्राफ समतल हो जाएगा। देश में जुलाई के आखिर या अगस्त में इस महामारी के चरम पर पहुंचने की आशंका है। बाद में संक्रमण घटने लगेगा। पाकिस्तान में अब तक 34,355 मरीज इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं। सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पाक में कुल 7,05,833 लोगों की कोरोना जांच की जा चुकी है।

इमरान ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि मेरे लिए नहीं बल्कि खुद के लिए… अपने प्रियजनों, बुजुर्गों और अन्य बीमार लोगों के लिए एहतियात बरतिए। उन्‍होंने कहा कि ज्यादातर लोग यह सोचकर नियम तोड़ रहे हैं कि यह सामान्य फ्लू है। यदि हम नियमों का उल्लंघन करते रहे तो हम अति संवेदनशील व्यक्तियों की जान को जोखिम में डाल रहे हैं। इमरान का बयान ऐसे समय में आया है जब कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा देखा जा रहा है। इस बीच, रेलमंत्री शेख रशीद अहमद के कार्यालय ने कहा है कि वह डॉक्टरों की सलाह पर दो हफ्ते तक आइसोलेशन में रहेंगे।

Whats App