Logo
ब्रेकिंग
Income tax raid फर्नीचर व गद्दे में थीं नोटों की गड्डियां, यहां IT वालो को मिली अरबों की संपत्ति! बाइक चोरी करने वाले impossible गैंग का भंडाफोड़, पांच अपरा'धी गिरफ्तार।। रामगढ़ की बेटी महिमा को पत्रकारिता में अच्छा प्रदर्शन के लिए किया गया सम्मानित Bjp प्रत्याशी ढुल्लु महतो के समर्थन में विधायक सरयू राय के विरुद्ध गोलबंद हूआ झारखंड वैश्य समाज l हजारीबाग लोकसभा इंडिया प्रत्याशी जेपी पटेल ने किया मां छिनमस्तिका की पूजा अर्चना l गांजा तस्कर के साथ मोटासाइकिल चोर को रामगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार स्वीप" अंतर्गत वोटर अवेयरनेस को लेकर जिले के विभिन्न प्रखंडों में हुआ मतदाता जागरूकता रैली का आयोजन... *हमारा लक्ष्य विकसित भारत और विकसित हज़ारीबाग: जयंत सिन्हा* आखिर कैसे हुई पुलिस हाजत में अनिकेत की मौ' त? नव विवाहित पति पत्नी का कुएं में मिला शव l

चीन ने भारत से अपने नागरिक निकालने शुरू किए, चार्टर्ड विमानों के जरिए लौट रहे लोग

बीजिंग। चीन ने कोरोना संक्रमण के चलते अपने नागरिकों को भारत से निकालना शुरू कर दिया है। सोमवार को कुछ चीनी नागरिकों को लेकर एक विमान रवाना हो चुका है जबकि आने वाले दिनों में चार और विमान बाकी चीनी नागरिकों को वापस लेकर जाएंगे। चीन सरकार के मुख पत्र ग्लोबल टाइम्स के अनुसार सोमवार को मुंबई से एक चार्टर्ड विमान चीनी नागरिकों को लेकर चीन रवाना हो गया है। इसके अलावा, जल्द ही चार और चार्टर्ड विमान चीनी नागरिकों लेकर भारत से रवाना होंगे।

चीनी अखबार ने ह्यू नाम के एक अधिकारी के हवाले से बताया कि आने वाले दिनों में चार और चार्टर्ड विमान चीनी नागरिकों को लेकर मुंबई, दिल्ली और कोलकाता जैसे शहरों से भी रवाना होंगे। ह्यू ने कहा कि हमारे नागरिक चीन वापस लौटने के लिए बेसब्र हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि भारत के बड़े शहरों में कारोबार करने या पढ़ने के लिए आए करीब तीन हजार चीनी नागरिक यहां फंसे हुए थे। लेकिन करीब आधे लोग 25 मार्च को लॉकडाउन लगने से पहले ही वापस चीन लौट चुके हैं।

ह्यू ने कहा कि भारत में लॉकडाउन खुलने के साथ ही मॉल, रेस्टोरेंट और धर्मस्थल भी खुल गए हैं। लिहाजा यहां कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से फैलने की आशंका है। नई दिल्ली स्थित चीनी दूतावास ने 25 मई को घोषणा की थी कि वह चीनी एयरलाइंस के पांच विमानों का भारत लाने का बंदोबस्त करेंगे। एयर चाइना समेत चीनी एयरलाइंस चीनी छात्रों, पर्यटकों और कारोबारियों को वापस शंघाई और ग्वांगझू समेत पांच चीनी शहरों तक पहुंचाएंगे। इनके टिकट की लागत 1129 डॉलर से लेकर 1839 डॉलर तक होगी।