IPL 2020 की मेजबानी के लिए सबसे मजबूत दावेदार है UAE, बोर्ड ने किया खुलासा

yamaha

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी की चपेट में दुनिया का दूसरा सबसे ज्यादा आबादी वाला देश भारत भी आ गया है। यहां सोमवार 8 जून की सुबह तक ढाई लाख से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं। ऐसे में इस साल होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल पर खतरा मंडरा रहा है, लेकिन दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के पास इस लीग को आयोजित कराने का एक और विकल्प है, जिसमें इसका आयोजन विदेश में होने की संभावना है, जिसको लेकर अमीरात क्रिकेट बोर्ड यानी ईसीबी दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट टूर्नामेंट की मेजबानी करने का अवसर प्राप्त करने की कोशिश में है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ के अधिकारी अभी इस पर कोई आधिकारिक फैसला नहीं ले रहे हैं, लेकिन अधिकारियों ने ये साफ कर दिया है कि इस लीग का आयोजन इस साल विदेशी सरजमीं पर भी हो सकता है। आइपीएल 2020 की शुरुआत वैसे तो 29 मार्च से होनी थी, लेकिन कोरोना के कारण इस लीग को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। वहीं, ईसीबी का कहना है कि यूएई यानी दुबई आइपीएल की मेजबानी के लिए सबसे मजबूत दावेदार है।

हालांकि, बीसीसीआइ के पास श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड से भी ऑफर है, लेकिन अभी भारतीय क्रिकेट बोर्ड हालात सुधरने और टी20 विश्व कप के स्थगित होने के इतंजार में है, जिससे कि अक्टूबर-नवंबर की विंडो में भारत में ही इसका आयोजन हो सके। इस स्थिति में अमीरात क्रिकेट बोर्ड को भरोसा है को कि अगर आइपीएल अक्टूबर और नवंबर में आयोजित होता है और बीसीसीआइ इसे किसी तटस्थ स्थल पर आयोजित करना चाहेगी तो दुबई को इसकी मेजबानी मिल सकती है।

Emirates Cricket Board के सलाहकार शुभम अहमद ने कहा है कि यूएई ने 2014 में भी आइपीएल की मेजबानी की थी। उसी तरह इस बार भी हम दावेदार हैं। उन्होंने कहा है, “मौसम संयुक्त अरब अमीरात में अक्टूबर और नवंबर के महीनों में क्रिकेट के लिए अनुकूल है। बीसीसीआइ को यूएई में आइपीएल मैचों की मेजबानी करने का पिछला अनुभव था। एक बड़े भारतीय और अन्य उपमहाद्वीप प्रवासी आबादी के साथ, उसी समय और विश्व स्तर के स्टेडियमों में आइपीएल आयोजित हो सकता है। इसलिए ईसीबी को भरोसा है कि यूएई आइपीएल मैचों की मेजबानी करने के लिए एक मजबूत दावेदार होगा।”

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.