लालू-शहाबुद्दीन व राजबल्‍लभ की तस्‍वीरें दे लिखा- कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाए ताली

yamaha

पटना। बिहार की राजनीति में सियासी दलों का पोस्‍टर वार (Poster War) नया नहीं है। अागामी विधानसभा चुनाव (Assembly Election) को देखते हुए यह फिर से शुरू हो गया है। ताजा मामला राष्ट्रीय जनता दल (RJD) द्वारा बिहार की नीतीश सरकार (Nitish Government) के खिलाफ पोस्‍टर जारी करने तथा भारतीय जनता पाटी (BJP) के पूर्व अध्‍यक्ष अमित शाह (Amit Shah) की रविवार को हो रही वर्चुअल रैली (Virtual Rally) के विरोध में ‘थाली पीटो’ अभियान के जवाब में बीजेपी के समर्थन में लगाए गए पोस्‍टर का है

बीजेपी के समर्थन में लगाए गए पोस्‍टरों में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad yadav) के साथ पूर्व सासंद मो. शहाबुद्दीन (Md. Shahabuddin) और पूर्व विधायक राजवल्लभ यादव (Raj Ballabh Yadav) को थाली पीटते दिखाया गया है। साथ ही लिखा गया है- कैदी बजा रहा थाली, जनता बजाओ ताली।

आरजेडी के खिलाफ जारी किया

विदित हो कि रविवार को बीजेपी की बिहार में वर्चुअल रैली है। इसके साथ ही पार्टी बिहार में चुनावी शंखनाद कर रही है। आरजेडी ने इसके विरोध में रविवार को पूर्वाह्न 11 बजे अपने समर्थकों व कार्यकर्तओं से थाली-कटाेरा पीटने का आह्वान किया है। आरजेडी के इस विरोध के खिलाफ यह पोस्‍टर जारी किया गया है। पोस्टर किसने जारी किया है, यह ज्ञात नहीं। जारी करने वाले ने अपना नाम नहीं दिया है।

शहाबुद्दीन-राजबल्‍लभ के साथ दिखाए गए लालू

पोस्टर में दिखाए गए आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव सहित अन्‍य नेता मो. शहाबुद्दीन व राजबल्लभ यादव अलग-अलग मामलों में दोषी ठहराए जाने के बाद विभिन्‍न जेलों में सजा काट रहे हैं। लालू यादव चारा घोटाला (Fodder Scam) में रांची के होटवार जेल (Hotwar jail) में सजा काटते हुए फिलहाल वहां के रिम्‍स (अस्‍पताल) में इलाज करा रहे हैं। शहाबुद्दीन सिवान के चर्चित एसिड बाथ डबल मर्डर (Acid Bath Double Murder) में आजीवन करावास काट रहे हैं तो राजबल्‍लभ यादव एक नाबालिग लड़की से दुष्‍कर्म (Dirty Act) के मामले में सजायाफ्ता होकर जेल में हैं।

तेजस्‍वी ने खुद लगाए नीतीश के खिलाफ पोस्‍टर

इस पोस्‍टर के पहले शनिवार को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने अपनी पार्टी के प्रदेश कार्यालय के बाहर खुद मुख्‍यमंत्री (CM) नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के खिलाफ पोस्टर लगाया था। पोस्‍टर में तेजस्वी ने पुलिस मुख्यालय के उस पत्र का हवाला देते हुए, जिसमें रोजगार संकट से परेशान प्रवासी (Migrant Workers) श्रमिकों द्वारा अपराध (Crime) की आशंका व्यक्त की गई थी, मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को घेरा है। आरजेडी के इस पोस्‍टर में नीतीश कुमार को मजदूर विरोधी बताया गया है। तेजस्‍वी यादव ने पूरे पटना में ऐसे पोस्टर लगवाने की घोषणा की है, इसलिए आगे पोस्‍टर वार गहराएगा, यह तय है।

raja moter

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.